पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना संक्रमण:जिन मरीजों में 70% ऑक्सीजन सैचुरेशन, उन्हीं के फेफड़ों में 80 % निमोनिया संक्रमण भी

खंडवा11 दिन पहलेलेखक: प्रशांत शर्मा
  • कॉपी लिंक
  • आइसोलेशन वार्ड में 10 दिन में 30 की मौत

जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में 10 दिन के अंदर 30 मरीजों की मौत हो चुकी है। इनकी मौत का कारण फेफड़ों में 60 से 80 फीसदी तक निमोनिया का संक्रमण व फेफड़ों में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन का नहीं पहुंंच पाना सामने आया है। जिसकी वजह से हार्ट, ब्रेन आदि ने काम करना बंद कर दिया था।

दरअसल, आइसोलेशन वार्ड में भर्ती मरीजों का इलाज करने वाली स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा मरीजों की जांच रिपोर्ट का एनालिसिस करने पर यह बात सामने आई है। इस पूरे एनालिसिस में जिला अस्पताल में मरीजों के भर्ती होने पर शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा, निमोनिया का संक्रमण व शरीर के आंतरिक हिस्सों के काम करने की गतिविधियों को शामिल किया गया था। निमोनिया होने के प्रमुख कारण स्वाइन फ्लू, वायरल, कोरोना और बैक्टेरिया है लेकिन फिलहाल कोरोना को प्रमुख कारण माना जा रहा है।

मौत से पहले 8 में से 7 की थी निगेटिव रिपोर्ट
29 मार्च से 7 अप्रैल तक आइसोलेशन के संदिग्ध वार्ड (सारी) में 18 मरीजों की मौत हुई। इसमें एक कोरोना पॉजिटिव मरीज भी शामिल है, जबकि आइसोलेशन वार्ड में कोरोना पॉजिटिव के लिए बने आईसीयू में 8 मरीजों ने इलाज के दौरान दम तोड़ा। कुल 30 (खंडवा के 22 व बुरहानपुर के 8) सभी मरीजों को सांस लेने में समस्या थी। हालांकि कोरोना पॉजिटिव 8 में से सात मरीजों की मौत के पहले रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी थी, लेकिन तबीयत में सुधार न होने से उनका आईसीयू में इलाज चल रहा था। कोरोना पॉजिटिव व संदिग्ध मरीजों का इलाज करने वाले डॉक्टरों ने बताया वार्ड में 20 से 40 फीसदी ऑक्सीजन सैचुरेशन वाले मरीज निजी हॉस्पिटल से रैफर होकर आ रहे हैं। मरीजों में जब निमोनिया बिगड़ रहा है तो निजी अस्पताल उन्हें इलाज के लिए जिला अस्पताल भेज रहे हैं।

सर्दी-खांसी, तेज बुखार तो घर में न करें इलाज, जल्दी हो भर्ती
शरीर में ऑक्सीजन सैचुरेशन की मात्रा 70% से होने पर इलाज के लिए आ रहे हैं। यदि ऑक्सीजन सैचुरेशन की मात्रा 95% हो तो बिना देर किए जिला अस्पताल में भर्ती हो जाएं। सर्दी-खांसी, तेज बुखार है तो घर में इलाज न करें। ऐसे मरीज जिला अस्पताल के कमरा नंबर-21 में कोरोना की जांच कराएं। निमोनिया के मरीजों को समय पर ऑक्सीजन की आवश्यक होती है। फेफड़ों में निमोनिया का संक्रमण बढ़ने से ऑक्सीजन में कमी आ जाती है। जिससे शरीर के अंग काम करना बंद कर देते हैं।
डॉ. योगेश शर्मा, जिला महामारी विशेषज्ञ, खंडवा

युवाओं को हो रहा निमोनिया
^आइसोलेशन वार्ड में इलाज के लिए युवा मरीज भी निमोनिया से पीड़ित होकर आ रहे हैं। लास्ट स्टेज में निमोनिया संक्रमण के कारण ऑक्सीजन शरीर के अन्य हिस्सों में नहीं पहुंच रही है। जिस कारण मौत हो रही है।
डॉ.पंकज जैन, एमडी मेडीसिन, मेडिकल कॉलेज

हालात... अब निजी अस्पताल में रिजर्व रहेंगे 80 बेड
इधर, बुधवार शाम इंदौर रोड के तीन और सिंधी कॉलोनी के एक निजी हॉस्पिटल का निरीक्षण जिपं सीईओ नंदा भलावे, सीएमएचओ डॉ. डीएस चौहान, आरएमओ डॉ.एसएस राठौर और जिला महामारी विशेषज्ञ डॉ. योगश शर्मा ने किया। निजी हॉस्पिटल में कोरोना मरीजों के लिए 80 बेड आरक्षित किए जाएंगे। इंदौर रोड के 3 हॉस्पिटल में 28 व सिंधी कॉलोनी के अस्पताल में 15 बेड आरक्षित किए। गुरुवार को बाकी निजी हॉस्पिटल में बेड आरक्षित का काम किया जाएगा।
24 घंटे में 34 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव
24 घंटे में 34 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आईं। जबकि 556 मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव आईं है। डॉ. योगेश शर्मा ने बताया कि 24 घंटे में संक्रमण से मुक्त होने पर 12 मरीजों को कोविड केयर सेंटर से डिस्चार्ज किया। बुधवार को कुल 485 मरीजों के सेम्पल लिए गए हैं।

क्राइसिस मैनेजमेंट... भीड़ वाले कार्यक्रम प्रतिबंधित, विवाह में सिर्फ परिजन होंगे

संक्रमण की रोकथाम के लिए जिला प्रशासन ने सख्ती शुरू कर दी है। विवाह समारोह में दोनों पक्षों के गिनती के परिजन शामिल हो सकेंगे। भीड़ वाले कार्यक्रमों को प्रतिबंधित कर दिया है। इधर, बुधवार को कलेक्टोरेट में जिला स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में बैतूल सांसद दुर्गादास उइके ने कहा संक्रमण रोकथाम के लिए सरकारी प्रयास पर्याप्त नहीं है, बल्कि आमजन को आगे आना होगा।

उन्होंने शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में सोशल डिस्टेंसिंग व मास्क का पालन नहीं करने पर कार्रवाई के निर्देश दिए। बैठक में विधायक देवेन्द्र वर्मा, नारायण पटेल, कलेक्टर अनय द्विवेदी, एसपी विवेक सिंह, जिपं सीईओ नंदा भलावे, भाजपा जिलाध्यक्ष सेवादास पटेल, चेम्बर ऑफ कॉमर्स अध्यक्ष गुरमीत सिंघ उबेजा, मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. अनंत पंवार, सीएचएमओ डॉ. डीएस चौहान सहित विभिन्न सदस्य मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कुछ रचनात्मक तथा सामाजिक कार्यों में आपका अधिकतर समय व्यतीत होगा। मीडिया तथा संपर्क सूत्रों संबंधी गतिविधियों में अपना विशेष ध्यान केंद्रित रखें, आपको कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती हैं। अनुभव...

    और पढ़ें