शांत रहे श्रमिक / प्लेटफार्म बना किचन, मदद के लिए उठे ‘सेवा’ के हाथ

Platform becomes kitchen, 'Seva' hands raised to help
X
Platform becomes kitchen, 'Seva' hands raised to help

  • संघ के अनुशांगिक संगठनों ने सेवा भारती के भोजन कार्य में किया सहयोग, रविवार को भी जारी रहेगा सेवा का किचन
  • शुक्रवार रात 12 बजे से शनिवार दोपहर 1 बजे तक 27 ट्रेनें गुजरीं

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:35 AM IST

खंडवा. जंक्शन का दृश्य शनिवार को बदला हुआ था। शुक्रवार को जहां एक रोटी और पानी की पेटी लूटने के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेन के मजदूरों ने हंगामा किया था, वहीं अगले दिन शांति से भोजन लिया। शुक्रवार रात 12 बजे से शनिवार दोपहर 1 बजे के बीच कुल 27 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें खंडवा जंक्शन पर रुकीं और गुजरीं, लेकिन हंगामा नहीं हुआ। कारण था सेवा भारती के किचन में गर्मागर्म भोजन और इसके पैकेट बांटते स्वयंसेवक। 
शनिवार को स्टेशन पर श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में सफर करने वाले मजदूरों भरपेट भोजन व बच्चों को दूध मिल रहा था। आरएसएस के अनुशांगिक संगठन सेवा भारती ने रेलवे स्टेशन पर शनिवार को ओपन किचन शुरू किया। तपती दोपहर में प्लेटफार्म नंबर-5 पर स्वयंसेवक पूड़ी-सब्जी बनाने के साथ भोजन के पैकेट तैयार करने में जुटे रहे। महाराष्ट्र, गुजरात और दक्षिण भारत के राज्यों से आने वाले मजदूरों को 80 से अधिक स्वयंसेवक भोजन बांटने में जुटे रहे। संघ के जिला संपर्क प्रमुख संतोष गुप्ता ने बताया रविवार को भी संगठन द्वारा श्रमिकों को भोजन बांटा जाएगा। भोजन कार्य में सुनील बंसल, नागेश वालंजकर, माधव झा, अनिमेष जोशी, खुशाल योगी, पिंकी लाड़, संगीता सेन, निकिता सोनी, महिमा वर्मा सहित अन्य स्वयंसेवक जुट रहे।
27 श्रमिक ट्रेनें गुजरीं:  24 घंटे में भोपाल मंडल ने सिग्नल की समस्या को दूर कर लिया। इसके कारण शुक्रवार रात 12 बजे से शनिवार दोपहर 1.30 बजे तक कुल 13.30 घंटे में ही 27 श्रमिक ट्रेनें खंडवा स्टेशन से गुजरीं। ट्रेनों को प्लेटफार्म पर केवल 5 से 25 मिनट तक ही इंतजार करना पड़ा।
ग्रामीणों ने अपने घर से लाकर बांटा खाना
बड़गांवगुर्जर में एक के पीछे एक ट्रेनें खड़ी होने लगी तो ग्रामीणों ने अपने घर से भोजन लाकर बांटना शुरू किया। ट्रैक पर खड़ी ट्रेनों में भोजन के साथ पानी की व्यवस्था भाजपा नेता नंदन करोड़ी सहित उनकी टीम ने की।
विधायक ने पहुंचाया पानी का टैंकर 
ट्रैक पर खड़ी हो रही ट्रेनों में बैठे मजदूर जब प्यास से व्याकुल होकर हंगामा करने लगे तो पंधाना विधायक राम दांगोरे ने सरपंचों से बातचीत कर बगमार स्टेशन के पास पानी का टैंकर भिजवाया। 
सिंधी समाज ने मजदूरों को बांटा पानी, अंतरराष्ट्रीय विहिप ने पुलाव 
सेवा के लिए शनिवार को सामाजिक एवं धार्मिक संगठन आगे आए। सिंधी समाज ने यात्रियों को पानी की बोतले व अंतरराष्ट्रीय विहिप ने पुलाव व पानी बांटा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना