पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

फांसी की मांग:पीएम रिपोर्ट में आया सीने पर अधिक वजन से हुई थी बालिका की मौत, धनगांव टीआई लाइन अटैच

खंडवा3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जामनिया में बालिका से दुष्कर्म व हत्या के आरोपी और उसकी पत्नी एक दिन की रिमांड पर, सहयोगियों की जांच कर रही पुलिस

कालमुखी क्षेत्र के जामनिया में 13 वर्षीय बालिका से दुष्कर्म व हत्या के मामले की जांच के दौरान बुधवार बालिका की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ गई। इसमें मौत का कारण सीने पर वजन व घबराहट से होना बताया है। मामले में दुष्कर्म की भी पुष्टि हुई है। पुलिस ने आरोपी दिलावर राजपूत, उसकी पत्नी किरण के खिलाफ धारा 302(हत्या), 201(साक्ष्य छुपाना), 376(3)(दुष्कर्म), 3/4 पॉक्सो एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज कर किया है। आरोपी दंपती को बुधवार दोपहर चतुर्थ अपर सत्र न्यायाधीश किरण सिंह के न्यायालय में पेश कर सहयोगियों के बारे में पूछताछ व साक्ष्य एकत्र करने के लिए एक दिन की रिमांड मांगने पर न्यायालय ने अनुमति दे दी है। इसी मामले में धनगांव पुलिस थाना टीआई हिना डावर की लापरवाही भी सामने आई है। उन्हें बुधवार शाम एसपी विवेक सिंह ने लाइन अटैच कर दिया है। टीआई की कार्यशैली को लेकर पंधाना विधायक राम दांगोरे ने मुख्यमंत्री को पत्र लिख टीआई को हटाने व प्रकरण में आरोपी दिलावर उसकी पत्नी किरण सहित आंगनवाड़ी कार्यकर्ता को आरोपी बनाए जाने सहित अन्य मांग की थी। इसके बाद टीआई को थाने से हटा दिया।

यह थी घटना
11 जनवरी सुबह 10 बजे बालिका ने अपनी मां से 5 रुपए लिए और दिलावर राजपूत की किराना दुकान पर बिस्किट लेने गई थी। इस दौरान आरोपी बालिका को कमरे में घसीटकर ले गया और उसके साथ खोटा काम किया। बालिका की मौत हो जाने पर लाश को ठिकाने लगाने के लिए आरोपी व उसकी पत्नी लाश को बोरे में भर रहे थे। इस दौरान दोपहर 12 बजे आरोपी दिलावर व उसकी पत्नी को गांव के कुछ लोगों ने बोरे में लाश भरते हुए देख लिया था। इसके के बाद मामले का खुलासा होने पर गांव में हड़कंप मच गया। मामला बढ़ते देख आरोपी व उसकी पत्नी गांव छोड़कर भाग गए। कुछ घंटे बाद दोनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था।

कोर्ट लाइव... पूछताछ के बाद रिमांड दिया
दोपहर 3.25 बजे आरोपी व उसकी पत्नी को न्यायालय में बुलाया। जिला अभियोजन अधिकारी चंद्रशेखर हुक्मलवार ने पुलिस की तरफ से एक दिन की रिमांड की मांग की। जज ने आरोपी दंपती से पूछताछ के बाद एक दिन का रिमांड दे दिया।
जज - क्या नाम है। आरोपी - दिलावर।
जज - उम्र क्या है। आरोपी - 45 साल
जज - क्या किया है। आरोपी - कुछ नहीं।
जज - शरीर पर चोंट के कोई निशान तो नहीं है। आरोपी - नहीं

अधिवक्ता ने राष्ट्रीय बाल आयोग से की शिकायत
मामले को लेकर अधिवक्ता व समाजसेवी प्रिया ठाकुर इंदौर ने राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) अध्यक्ष को शिकायत कर आरोपी को फांसी की सजा देने की मांग की।
जगह-जगह हुआ विरोध
जघन्य हत्याकांड को लेकर यादव गवली समाज व अन्य सामाजिक संस्थाओं ने बुधवार को खरगोन, धामनोद, कसरावद, भीकनगांव सहित आसपास के शहरों में ज्ञापन देकर विरोध प्रदर्शन कर आरोपी को सख्त सजा देने की मांग की।
सांसद ने कहा दोषियों को कड़ी सजा दिलाएंगे
सांसद नंदकुमारसिंह चौहान ने बुधवार को विज्ञप्ति जारी कर मामले को लेकर शोक व्यक्त किया। उन्होंने कहा दोषियों को कड़ी सजा दिलाएंगे। उन्होंने खंडवा एसपी व बालिका के परिजन से फोन पर चर्चा की।

विधायक दांगोरे ने सीएम से की शिकायत

1.धनगांव टीआई हिना डावर मृत बालिका के शरीर को अस्पताल छोड़कर चली गई। पोस्टमार्टम के बाद शव को स्वयं प्राप्त नहीं किया। जो कि प्रशासनिक लापरवाही का साक्ष्य है। इसके अलावा टीआई ने महिलाओं को गंदी गालियां दी जिसका वीडियो प्राप्त हुआ है। जिस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है। 2. गांव की आंगनवाड़ी कार्यकर्ता द्वारा आरोपियों को भगाया गया है। ग्रामीणों ने मेरे समक्ष ऐसे बयान दिए हैं। कार्यकर्ता पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। उसे सहआरोपी बनाया जाए। 3. घटना के प्रत्यक्षदर्शियों को धमकियां मिल रही हैं। उनको पुलिस सुरक्षा प्रदान की जाए। संबंधित मामले को फार्स्ट ट्रैक कोर्ट में चलाया जाए ताकि बालिका को जल्द न्याय मिले। 4. बालिका के परिवार को एक करोड़ रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाए। अस्पताल द्वारा बालिका का शव सौंपने के एवज में 3 हजार रुपए की मांग की गई। जिस पर कार्रवाई की जाए। 5. अपराध सिद्ध होने पर दुराचारी को एनकाउंटर करने का अधिनियम बनाया जाए।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser