पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रेल मंत्रालय:प्लेटफार्म व सर्कुलेटिंग एरिया में व्यवसायिक उपयोग के लिए निरीक्षण करेंगे आरएलडीए के अफसर

खंडवाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • राजस्व बढ़ाने के लिए अनुबंध के बाद निजी कंपनी के होटल, शॉपिंग मॉल, वातानुकूलित ऑफिस जैसी सुविधाएं करेगा

14 महीने बाद एक बार फिर हबीबगंज रेलवे स्टेशन की तरह ही खंडवा जंक्शन के विकास की चर्चा शुरू हो गई है। एक दिन पहले स्टेशन के निरीक्षण के लिए आए सेंट्रल रेलवे भुसावल के डीआरएम ने सेंट्रल रेल भूमि विकास प्राधिकरण (आरएलडीए) के अफसरों के निरीक्षण की बात कही।

उन्होंने कहा आरएलडीए को योजना का प्रारूप दिया जा रहा है। जल्द ही अधिकारी स्टेशन एवं परिसर का निरीक्षण करेंगे। गौरतलब है सेंट्रल रेलवे मुंबई के जनरल मैनेजर ने दिसंबर 2015 में खंडवा जंक्शन का वार्षिक निरीक्षण किया था। उन्होंने उसी वक्त रेलवे को आय वृद्धि के लिए पीपीपी मोड से विकास के निर्देश दिए थे। जीएम ने प्लेटफार्म नंबर-5 पर होटल व दुकानों के निर्माण की बात भी कही थी। इसके बाद 2019 में रेल मंत्रालय ने राजस्व में बढ़ोतरी के लिए सेंट्रल रेलवे भुसावल मंडल के खंडवा, नासिक रोड स्टेशन और भुसावल जंक्शन का चयन किया था।

अक्टूबर-2019 में स्थानीय कंसल्टेंसी के माध्यम से रेलवे के इंजीनियर्स ने स्टेशन परिसर सहित ट्रैक के आसपास की जमीन का ड्रोन व टोटल स्टेशन का मशीन से सर्वे कराया था। रेलवे इंजीनियर वीडियो रिकॉर्डिंग के साथ नपती भी कर चुके हैं। नवंबर-2019 में आरएलडीए के अधिकारियों ने स्टेशन पर व्यवसायिक गतिविधियों की जगह का निरीक्षण भी किया था लेकिन प्रोजेक्ट पर काम शुरू नहीं हो पाया।

रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म पर प्रस्तावित है होटल, शॉपिंग मॉल, वातानुकूलित ऑफिस
रेल मंत्रालय द्वारा राजस्व में बढ़ोतरी के लिए पब्लिक-प्रायवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) मोड के तहत स्टेशन परिसर को विकसित किया जाएगा। यहां शॉपिंग मॉल, कमर्शियल ऑफिस, पार्किंग, फाइव स्टार होटल जैसी विश्व स्तरीय सुविधाएं मिलेंगी। इसके लिए रेलवे ट्रैक एरिया को छोड़कर प्लेटफार्म, सर्कुलेटिंग एरिया सहित रिक्त पड़ी रेलवे की जमीनों का व्यावसायिक उपयोग किया जाएगा।

रेलवे स्टेशन का है 30 एकड़ में विस्तार, 8 सौ करोड़ की लागत का प्रस्ताव
1866 में खंडवा स्टेशन का निर्माण हुआ था। स्टेशन का क्षेत्रफल लगभग 30 एकड़ में है। स्टेशन का विस्तार 1.5 किमी तक है। रेलवे के इंजीनियर्स ने कहा यदि दो महीने में जमीन व टेंडर की प्रक्रिया तय हो गई तब 800 करोड़ की लागत से 8 साल में वर्ल्ड क्लास रेलवे स्टेशन बनेगा। ऐसे में स्टेशन के विकास की अवधि बढ़ेगी।

डीआरएम को दिया रेलवे मजदूर संघ ने ज्ञापन
सेंट्रल रेलवे मजदूर संघ ने भुसावल मंडल के डीआरएम को ज्ञापन दिया। संघ के पदाधिकारियों ने अनुकंपा नियुक्ति में देरी की डीआरएम विवेक कुमार गुप्ता से शिकायत की। पदाधिकारियों के ज्ञापन पर डीआरएम ने भुसावल से आए अधिकारियों से त्वरित कार्रवाई के लिए कहा। ज्ञापन देने वालों में बीके चतुर्वेदी, एनके अग्रवाल, डीके पटसारिया, राधेश्याम सेजकर सहित अन्य पदाधिकारी शामिल रहें।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

    और पढ़ें