पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • Singaji Fair To Be Held From Today Canceled, Permission Not Given, Devotees Said: Why Not At The Meetings, Why At The Fair?

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

संत सिंगाजी समाधि:आज से लगने वाला सिंगाजी मेला रद्द, अनुमति नहीं मिली, श्रद्धालु बोले : सभाओं पर रोक नहीं तो मेले में क्यों?

खंडवाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

संत सिंगाजी समाधि स्थल पर 460 साल से लगने वाला मेला कोरोना संक्रमण के कारण जिला प्रशासन ने निरस्त कर दिया है। यह मेला सोमवार से शुरू होना था, लेकिन अनुमति नहीं मिलने से रविवार को संत सिंगाजी समाधि स्थल पर सन्नाटा पसरा रहा। इससे श्रद्धालुओं में आक्रोश हैं। उनका कहना है मांधाता विधानसभा उपचुनाव में बड़ी-बड़ी सभा हो रही है, लेकिन इन पर रोक नहीं है, लेकिन 460 वर्ष से लगने वाले मेले प्रशासन रद्द कर रहा है, यह गलत है। खरगोन जिले से आए आत्माराम मेहरा और दीपक सोलंकी ने बताया कि संत सिंगाजी समाधि स्थल पर हर साल लाखों की संख्या में श्रद्धालु आते हैं। अगर मेला नहीं लगाया गया तो श्रद्धालु तो जरूर दर्शन करने आएंगे। इसके लिए प्रशासन द्वारा व्यवस्था की जानी चाहिए। ज्यादा भीड़ तो शरद पूर्णिमा पर होगी। दो से 3 लाख श्रद्धालु दर्शन करने के लिए संत सिंगाजी महाराज की समाधि पर पहुंचेंगे। लेकिन प्रशासन ने श्रद्धालुओं के लिए कोई व्यवस्था नहीं की है।

यह व्यवस्था होनी चाहिए

  • घाट पर महिला-पुरुष के लिए अलग-अलग चेंजिंग रूम होना चाहिए
  • एंबुलेंस और डॉक्टर, फायर विकेट मौके पर मौजूद हो
  • श्रद्धालुओं के रात्रि विश्राम के लिए व्यवस्था
  • भंडारे की व्यवस्था ताकि कोई श्रद्धालु भूखे ना रह पाए
  • मेला ग्राउंड में पानी की व्यवस्था भी हो
  • घाटों पर नाव और होमगार्ड के जवानों की तैनाती
  • मेले के दौरान पुलिस बल की तैनाती भी होनी चाहिए।

हजारों निशान चढ़ते हैं

  • 5 लाख से अधिक श्रद्धालु करते हैं दर्शन दशहरे से पंचमी तक।
  • हजारों लीटर चढ़ता है देसी घी
  • हजारों चढ़ते हैं निशान
  • दुकानदारों की अच्छी खासी चलती है दुकाने परिवार का होता है जीवन यापन​​​​​​​

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर-परिवार से संबंधित कार्यों में व्यस्तता बनी रहेगी। तथा आप अपने बुद्धि चातुर्य द्वारा महत्वपूर्ण कार्यों को संपन्न करने में सक्षम भी रहेंगे। आध्यात्मिक तथा ज्ञानवर्धक साहित्य को पढ़ने में भी ...

और पढ़ें