• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • Soybean Seed Stock Is Full But Local Upliftment Of High Prices By Telling Saltage, Shopkeepers Are Paying Bills And Not Guaranteeing Germination; Tagged Seed Failed In Testing

टैग लगा बीज टेस्टिंग में फेल:सोयाबीन बीज का स्टॉक फुल लेकिन सॉल्टेज बताकर महंगे दामों में लोकल का उठाव; दुकानदार न बिल दे रहे हैं न अंकुरण की ग्यारंटी

खंडवा7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

इन दिनों खरीफ सीजन की तैयारी में जुटा किसान खासकर सोयाबीन बीज की खरीदी में लगा है। बाजार में बीज का पर्याप्त स्टॉक है, लेकिन सॉल्टेज बताकर लोकल का नकली बीज महंगे दामों में बेचा जा रहा है। यहां तक की दुकानदार बिल दे रहे न अंकुरण की ग्यारंटी। बीज पर प्रमाणीकरण का टैग जरूर लगा है, लेकिन किसानों ने टेस्टिंग में फेल साबित कर दिया। ऐसे में किसान खुद को ठगा सा महसूस कर रहे है। मिलीभगत का नतीजा है कि सरकार और प्रशासन इन बीज माफिया पर एक्शन तक नहीं ले सका है।

खंडवा के बाजारों में लोकल का नकली सोयाबीन बीज 120 रुपए किलो यानी 12 हजार रुपए क्विंटल में बेचा जा रहा है। इसके बदले किसानों को अंकुरण की ग्यारंटी नहीं दी जा रही है। किसान बीज खरीदता भी है तो उसे पक्का बिल नहीं दिया जा रहा है। डीजल-पेट्रोल के बढ़ते दामों के बाद महंगे खाद और अब नकली बीज का कारोबार किसानों के लिए चुनौती बन गया है। सीजन की शुरुआत में ही किसानों में बीज की सॉल्टेज बताकर भ्रम पैदा किया जा रहा है। इसके बाद लोकल स्तर पर बीज तैयार करने वाली कंपनियां असली की आड़ में नकली बीज का कारोबार करती है।

महेंद्र कृषि सेवा केंद्र ने चस्पा किया नोटिस।
महेंद्र कृषि सेवा केंद्र ने चस्पा किया नोटिस।

- दुकानदार ने चस्पा किया नोटिस- बीज अंकुरण की ग्यारंटी नहीं

खंडवा शहर में खाद-बीज की करीब 70 दुकानें है। यहां खंडवा जिले के अलावा बुरहानपुर और खरगोन जिले से सनावद और भीकनगांव क्षेत्र के किसान आते हैं। नुरियाखेड़ी के किसान सुकराम दिवाने ने बताया कि दुकानदार बीज अंकुरण की ग्यारंटी नहीं दे रहे हैं, बिल मांगों तो मना कर देते हैं। भास्कर ने पड़ताल की तो महेंद्र कृषि सेवा केंद्र के बाहर अंकुरण की ग्यारंटी न होने का नोटिस तक चस्पा कर दिया गया।

घर पर किसान परीक्षण किया तो बीज सड़ गया।
घर पर किसान परीक्षण किया तो बीज सड़ गया।

- किसान बोला- सारस एग्रो का बीज टेस्टिंग में फेल

गांव अहमदपुर के किसान इंदरसिंह राजपूत ने बताया उन्होंने खंडवा लोकल की सारस एग्रो का बीज खरीदा। बुआई से पहले घर पर कुछ दाने निकालकर बीज परीक्षण किया तो अंकुरण नहीं हुआ। यहां तक बीज सड़ गया। अब वापस बीज लाकर दुकानदार को दे दिया है। किसान ने बताया पहले इस बीज की कीमत 3200 रुपए वसूली गई थी। अब 3900 रुपए तक वसूल रहे हैं।

खंडवा में बीज अधिकारियों पर एक्शन:नकली बीज मामले में खंडवा के 5 अफसर सस्पेंड; बीज माफिया व डीडीए पर सस्पेंस

खंडवा में नकली बीज का कारोबार:कृषि मंत्री ने जिन अफसरों को निलंबित करना बताया, उन्होंने ही बीज माफिया पर कराई FIR; भाजपा-कांग्रेस से जुड़े माफिया कार्रवाई से दूर

(रिपोर्ट : सावन राजपूत / देवीलाल पटेल )

खबरें और भी हैं...