पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • The Discussion On The Mill, The Grandmother And The Mother Who Threw The Newborn In The Sack Of Sack, Brought Them To Jail

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पांचवें दिन खुलासा:नवजात को टाट की बोरी में फेंकने वाली नानी, मां व आरोपी को चक्की पर हुई चर्चा ने पहुंचाया जेल

खंडवाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सिंगोट में 25 अक्टूबर की सुबह पेट्रोल पंप के पास लावारिस हालत में मिला था

ये घटना है पिपलौद थाना क्षेत्र के सिंगोट की। जहां 25 अक्टूबर को टाट की बोरी में बंधा एक नवजात मिला था। पुलिस ढूंढ रही थी, उसकी मां को, कुछ पता नहीं चल रहा था। फिर गांव की आटा चक्की पर महिलाओं के बीच एक लड़की के गर्भवती होने की चर्चा चली, बात मुखबिर तक पहुंची और मुखबिर से पुलिस तक। अब नवजात को फेंकने वाली नानी, साथ देने वाली नवजात की मां और लड़की से ज्यादती करने वाले आरोपी को पुलिस गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश कर चुकी है, जहां से तीनों को जेल भेज दिया गया। लड़की ने पुलिस को बताया युवक का लगातार घर पर जाना जाना था। फरवरी 2020 युवक की मां ने मुझे अपने घर बुलाया। जब मैं पहुंची तो वह बाथरूम में नहा रही थी। इसका फायदा उठाते हुए युवक ने मेरे साथ जबरदस्ती की। धमकी देते हुए कहा-अगर किसी को बताया तो तेरे भाई की हत्या कर दूंगा और परिवार को भी जान से मार दूंगा। मैं डरी-सहमी किसी को कुछ नहीं बताया। शादी का झांसा देकर ज्यादती करता रहा। एक दिन मुझे तकलीफ हुई तो मां को पूरी घटना बताई। मां ने कहा ये तो बड़ी बदनामी वाली बात है। पिता-भाई को कुछ नहीं बताना। मेरी तकलीफ बढ़ती गई। 25 अक्टूबर की सुबह पेट में दर्द हुआ और नवजात बालक ने जन्म लिया। जिसे मां ने फेंक दिया।

दर्द और भूख से बिलख रहा था नवजात

25 अक्टूबर रविवार की सुबह। सिंगोट में ही पेट्रोल पंप के पास किसी के बिलखकर रोने की आवाजें आई। ग्रामीणों ने देखा तो टाट में लिपटा नवजात दर्द व भूख से बिलख रहा था। तत्काल पिपलौदा टीआई शिवराम जमरा को सूचना दी। अनामिका राजपूत और उनकी टीम मौके पर पहुंची। स्वास्थ्य केंद्र में नवजात का प्राथमिक उपचार करवाकर जिला अस्पताल के एसएनसीयू में भर्ती कराया। अज्ञात आरोपी महिला के खिलाफ धारा 317 (किसी बच्चे को मरने के लिए लावारिस छोड़ देना), 120 बी (साक्ष्य छिपाना) के तहत केस दर्ज किया।

{जिला अस्पताल के एसएनसीयू में नवजात का उपचार चल रहा है, जहां वह खतरे से बाहर है। {मामले में खुलासा होने के बाद नवजात के परिजन उसे अपनाने की बात कर रहे हैं। {मामला न्यायालय में पहुंच चुका है। दोनों पक्ष जेल में है। अब बाल कल्याण समिति बच्चे की परवरिश को लेकर फैसला करेगी।

पुलिस की कामयाबी
सनावद की फायनेंस कंपनी में काम करता है आरोपी

गांव में लड़की के गर्भवती होने की खबर पहले से कुछ महिलाओं को थी। जब 25 अक्टूबर को नवजात का लावारिस हालत में शव मिला तो महिलाओं को शंका हुई। गांव की आटा चक्की पर महिलाएं मामले को लेकर चर्चा करने लगी। ये बात इतनी फैली की पुलिस तक पहुंच गई। टीआई जमरा ने सब इंस्पेक्टर राजपूत को पड़ताल के लिए लगाया। मुखबिर की सूचना पर पुलिस उस परिवार तक पहुंच गई। मामले में पुलिस ने आरोपी अजीम पिता मजीद पिंजारा (28) निवासी सिंगोट को हिरासत में लिया। आरोपी गृह फाइनेंस कंपनी सनावद में कार्यरत है। आरोपी ने बालिका के परिजन से दोस्ती कर घर आना जाना शुरू किया और उसे प्रेम जाल में फंसा लिया। शादी का झांसा देकर ज्यादती करता रहा। आरोपी के खिलाफ धारा आईपीसी 376, 506 पॉक्सो एक्ट 3/4 के तहत प्रकरण दर्ज किया। शुक्रवार दोपहर आरोपी अजीम को न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया।​​​​​​​

शर्मिंदगी : पूरे परिवार ने कर ली थी सामूहिक आत्महत्या की तैयारी
नवजात के जन्म से पहले जब यह बात नाबालिग के पिता व भाई को पता चली। पूरे परिवार ने सामूहिक आत्महत्या करने का मन बना लिया। इस बीच उन्हें मौका नहीं मिला।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज भविष्य को लेकर कुछ योजनाएं क्रियान्वित होंगी। ईश्वर के आशीर्वाद से आप उपलब्धियां भी हासिल कर लेंगे। अभी का किया हुआ परिश्रम आगे चलकर लाभ देगा। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे लोगों के ल...

और पढ़ें