पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • To Get Treatment In The District Hospital, You Have To Bring Oxygen Cylinders From The Market Yourself

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

वेंटीलेटर पर ऑक्सीजन:जिला अस्पताल में इलाज कराना है ताे बाजार से खुद लेकर आना होगा ऑक्सीजन सिलेंडर

खंडवा20 घंटे पहले
  • कॉपी लिंक
  • अस्पताल के वार्डों में नहीं पर्याप्त ऑक्सीजन, जबकि स्वास्थ्य विभाग निजी हॉस्पिटल काे बांट रहा ऑक्सीजन सिलेंडर

इन दिनाें सरकारी अस्पताल में प्राइवेट ऑक्सीजन सिलेंडर से मरीजों को सांसें दी जा रही हैं। ये ऑक्सीजन सिलेंेडर भी मरीज के परिजन को ही व्यवस्था कर लाना पड़ रहे हैं। क्योंकि जिला अस्पताल के वार्डों में फिलहाल ऑक्सीजन गैस सप्लाई की पर्याप्त व्यवस्था नहीं है।

मंगलवार को जिला अस्पताल के मेल मेडिकल वार्ड भर्ती मरीजों के साथ ऐसी ही स्थिति बनी। वार्ड में भर्ती मरीज के लिए परिजन शहर के दानदाताओं एवं आसपास के जिलों से ऑक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था कर अस्पताल में ला रहे हैं। इधर, मेडिकल कॉलेज से संबद्ध जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड को छोड़कर बाकी के वार्डों में ऑक्सीजन की पर्याप्त व्यवस्था नहीं है। वहीं शहर के तीन निजी हॉस्पिटल को स्वास्थ्य विभाग अपने पास से कोरोना मरीजों के इलाज के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर बांट रहा है।

मरीज के लिए परिजन सनावद से लाए ऑक्सीजन सिलेंडर

जिला अस्पताल का मेल मेडिकल वार्ड। मंगलवार रात 8.25 बजे। वार्ड में भर्ती अधिकांश मरीज ऑक्सीजन सपोर्ट पर थे। बेड नंबर-18 पर भर्ती संजय पिता जवाहरसिंह राठौर हंतिया एवं बेड नंबर-19 पर मनोहर पिता मांगीलाल जगताप टाकली भर्ती थे। दोनों मरीजों को जंबो सिलेंडर से ऑक्सीजन गैस का सपोर्ट दिया जा रहा था। संजय के भाई लक्ष्मणसिंह राठौर ने बताया सनावद से ऑक्सीजन का सिलेंडर मंगाकर लगाया है। दो और ऑक्सीजन के सिलेंडर मंगा रहे हैं। वहीं मनोहर के बेटे गोलू ने बताया ऑक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था कर एक दानदाता से ऑक्सीजन गैस लाया।

मरीजों को छोटे सिलेंडर व कंसंट्रेटर से सांस का दे रहे सपोर्ट

जिला अस्पताल का ट्रामा सेंटर। 20 बेड के वार्ड को स्वास्थ्य विभाग ने कोविड केयर सेंटर बनाया है। मंगलवार रात 8.10 बजे वार्ड के भीतर का नजारा कुछ अलग ही दिखा। यहां पर महिला मरीज को पुरुषों के साथ ही वार्ड में भर्ती किया गया था। वार्ड में जंबो सिलेंडर की ऑक्सीजन सप्लाई लाइन बंद थी। मरीजों को छोटे ऑक्सीजन सिलेंडर व कंसंट्रेटर से सांस का सपोर्ट स्टाफ दे रहा था। वार्ड में इलाज के लिए आए 37 साल के युवक की मौत से सन्नाटा छाया हुआ था। स्टाफ ने बताया हर घंटे ऑक्सीजन के छोटे सिलेंडर व कंसंट्रेटर के सपोर्ट वाले मरीजों की रिपोर्ट लिखनी पड़ी रही है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें