पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • Took The House Work Till The Height Of The Roof But After Two Months The Beneficiaries Wandering For Installment

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

प्रधानमंत्री आवास योजना:छत की हाइट तक मकान का काम कर लिया पर दो माह बाद किस्त के लिए भटक रहे हितग्राही

खंडवा13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • नगर में मकान बना रहे 563 लाेगाें को नहीं मिली दूसरी व तीसरी किस्त

प्रधानमंत्री आवास योजना में पहली किस्त मिलने के बाद नगर में मकानों का निर्माण शुरू हो गया था। अब दूसरी और तीसरी किस्त नहीं मिलने से मकानों का काम रूक गया है। पहली किस्त के रूप में एक लाख रु. मिलने के बाद लोगों ने 5 से 6 फीट तक खुदाई कर भराव कर दिया। कॉलम (पिल्लर ) खड़े कर आधार तैयार कर छत हाइट तक का काम भी अपने स्तर से पूरा कर लिया। लेकिन 2 महीने बाद भी दूसरी और तीसरी किस्त का आवंटन नहीं किया है। इससे हितग्राही मकान की छत नहीं डाल पा रहे हैं। कई लोग कड़ाके की ठंड में खुले आसमान में सोने को मजबूर हैं। वहीं कुछ लोग किराए के मकान में तो कुछ ने रुपए उधार लेकर निर्माण कराया है। नगर परिषद पंधाना ने आवास योजना के तहत 913 प्रधानमंत्री आवास स्वीकृत हुए। इसमें वर्ष 2017-18 में 350, 2018-19 में 266 और 2019-20 में 297 प्रधानमंत्री आवास की स्वीकृति दी गई है। प्रथम चरण की शुरुआत में 350 आवास बनकर तैयार हो चुके हैं। दूसरे चरण के 266 आवास का निर्माण हो चुका हैं, जिनकी दो किस्त ₹2 लाख भी हितग्राही को मिल गई है, लेकिन दूसरे चरण के हितग्राहियों काे 50 हजार की राशि दी जाना बाकी है, दूसरे चरण के 266 पीएम हाउस बन कर तैयार हो चुके हैं। उन्हें अंतिम किस्त मिलना बाकी हैं। तब कहीं जाकर हितग्राही अपने मकान में शेष बकाया निर्माण पूरा कर सकता है। फिलहाल हितग्राहियों को अंतिम किस्त के इंतजार में नगर परिषद के चक्कर काटना पड़ रहा है। इसी तरह 266 हितग्राहियों को उनकी अंतिम 50 हजार की किस्त नहीं मिली है। हितग्राही मोहम्मद रियाज खान ने बताया कि पीएम हाउस योजना अंतर्गत मकान बन चुका है। अंतिम किस्त 50 हजार समयावधि में मिल जाती है तो मकान के अंदर शेष बचा कार्य पूरा हो जाएगा। लेकिन ऐसे अभी अधूरे मकान में ही मजबूरन रहना पड़ रहा है। 297 आवास स्वीकृत कर पहली किस्त ट्रांसफर की इधर तीसरे चरण में नगर परिषद ने 297 आवास स्वीकृत कर हितग्राहियों को पहली किस्त ₹1 लाख उनके खातों में डाल दी। कुछ हितग्राहियों को पीएम हाउस के अंतर्गत हाइट लेवल यानी करीब 8-9 फुट तक अपने-अपने मकान तो बना लिए हैं उन्हें दूसरी किस्त 1 लाख व तीसरी किस्त 50 हजार नहीं मिले हैं। उपयंत्री बिरला ने बताया कि शेष बचे पीएम हाउस की राशि 75 प्रतिशत जियो टेकिंग के बाद ऑनलाइन होने के बाद ही राशि प्राप्त होने का प्रावधान है। पूरे नगर की एवरेज प्रोग्रेस 75% होना जरूरी है। जैसी ही राशि नगर परिषद को प्राप्त होगी। नियमानुसार सभी हितग्राहियों को उनके खातों में राशि डाल दी जाएगी। राशि आते ही खाताें में डाल दी जाएगी ^इस संबंध में वरिष्ठ कार्यालय को पत्र भेजा है। जैसे ही राशि आएगी, सभी हितग्राहियों के खातों में डाल दी जाएगी। प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत 266 हितग्राहियों की अंतिम किस्त 50 हजार व 297 हितग्राहियों की दूसरी किस्त शासन से प्राप्त होना है। मंसाराम बडोले, सीएमओ नप पंधाना

पहली किस्त के रूप में 132 किसानों को राहत राशि के 15 लाख रुपए बांटे
मूंदी | सेवा सहकारी समितियों में वर्ष 2020 की खरीफ फसल नुकसानी की पहली किस्त राहत राशि का नगद वितरण शुरू हो गया है। पहले समितियों द्वारा राहत राशि किसानों के खातों में डाली गई, उसके बाद समिति परिसर में दीवारों पर सूची चस्पा कर वितरण कार्य शुरू कर दिया है। मूंदी सेवा सहकारी समिति में 6 गांव 2158 किसान शामिल हैं। किसानों को ग्राम वार अलग-अलग तिथियों में व्यवस्था पूर्वक राशि बांटी जा रही है। समिति के प्रबंधक योगेंद्र महोदय ने बताया सोमवार और मंगलवार 2 दिन में 132 किसानों को 15 लाख रुपए बांटे गए। दस्तावेज रूप में पावती एवं आधार कार्ड की फोटो कॉपी के साथ विड्राल पर्ची दी जा रही है। उसके बाद नगद भुगतान किया जा रहा है। सोमवार मूंदी के 85 किसानों को 10 लाख रुपए और मंगलवार को ग्राम जलवा के 47 किसानों को 5 लाख रुपए बांटे गए। बुधवार को भी ग्राम दैत्य एवं कोदबार के किसानों को राहत राशि बांटी गई। शुक्रवार को ग्राम उटड़ी के किसानों को राशि वितरित की जाएगी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप में काम करने की इच्छा शक्ति कम होगी, परंतु फिर भी जरूरी कामकाज आप समय पर पूरे कर लेंगे। किसी मांगलिक कार्य संबंधी व्यवस्था में आप व्यस्त रह सकते हैं। आपकी छवि में निखार आएगा। आप अपने अच...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser