पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • Vegetable fruit Traders Said We Want To Go To The Grain Market, But Farmers And Chindis Do Not Let Us Sit.

बुधवारा सब्जी मंडी हटाने पर हंगामा:सब्जी-फल व्यापारी बोले- अनाज मंडी में हम तो जाना चाहते हैं, लेकिन किसान और चिंदी वाले बैठने नहीं देते

खंडवाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पुलिस और निगम अधिकारियों से दो घंटे तक बहस, विरोध में जमीन पर बैठे व्यापारी
Advertisement
Advertisement

कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए बुधवारा बाजार स्थित सब्जी मंडी को पांच दिन पहले जिला प्रशासन ने जलेबी चौक स्थित पुरानी अनाज मंडी में 170 व्यवसायियों के लिए अस्थायी तौर पर दुकान लगाने की व्यवस्था की है। इसके बावजूद बुधवारा मंडी में सब्जी-फल की दुकानें रोज सुबह से लग रही हैं, जबकि अस्थायी मंडी में प्रतिदिन 8 से 10 दुकानें लग रही हैं।  मंगलवार सुबह पुलिस व निगम के अधिकारी दुकानें हटाने पहुंचे। तराजू-बांट, पटिये उठाते ही सब्जी व फल विक्रेता निगम अधिकारियों पर भड़क गए। इस दौरान सभी ने दुकानें बंद कर निगम की कार्रवाई का विरोध किया। व्यापारियों ने कहा कि हमें बुधवारा से हटाकर अनाज मंडी शिफ्ट तो कर दिया, लेकिन वहां व्यवस्था नहीं है। दुकान बंद करने के बाद बचा हुआ माल कहां और कैसे रखेंगे। अगर बुधवारा मंडी में माल लाकर रखते हैं तो 150-200 रुपए तक भाड़ा लगेगा। अनाज मंडी में पहले ही दिन से किसान और चिंदी वाले (पुराने कपड़े बेचने वाले) बैठने नहीं दे रहे। पहले ही दिन से विवाद की स्थिति बन रही है। हंगामा कर रहे व्यापारियों से ट्रैफिक डीएसपी बीपी सलोकी ने कहा कि अनाज मंडी में दुकानें लगवाना हमारी जिम्मेदारी है। वहां आपको कोई परेशान नहीं करेगा।  सुबह 9 से 11 बजे दो घंटे तक बातचीत, हंगामा होने के बाद भी यह तय नहीं हुआ कि बुधवार को अनाज मंडी में सब्जी-फल दुकानें लगेगी या नहीं। फल-सब्जी विक्रेता संघ अध्यक्ष अकील अशरफ के साथ सभी व्यापारी कलेक्टर-एसपी से मिले। अकील अशरफ ने कलेक्टर से कहा बुधवारा सब्जी मंडी में दुकानों के लिए काफी जगह है। आप स्वयं आकर निरीक्षण कर सकते हैं। स्थायी दुकान वाले वहां सोशल डिस्टेंस के साथ व्यवसाय कर सकते हैं। निगम के अधिकारी गलत फीडबैक दे रहे हैं।

निगम के अधिकारियों की बात पर भड़के व्यापारी बोले- कौन सच बोल रहा
सब्जी मंडी की दुकानें हटाने गए निगम के अधिकारी व्यापारियों को समझा नहीं पाए। राजस्व विभाग प्रभारी रामचंद्र खरे ने कहा कि सब्जी मंडी को स्थायी रूप से पुरानी अनाज मंडी में शिफ्ट किया जा रहा है। मंडी के ओटले तोड़ देंगे , जबकि बाजार विभाग प्रभारी अशोक तारे ने इसे अस्थायी रूप से शिफ्ट करने की बात कही। व्यापारियों ने कहा कि दोनों अधिकारियों में किसकी बात सही है। अगर अस्थायी रूप से मंडी को हटा रहे है तो हम यहां से कभी नहीं हटेंगे। बाजार विभाग प्रभारी ने कहा कि कोरोना महामारी के चलते आगामी आदेश तक मंडी को शिफ्ट किया जाना है। 

अनाज मंडी में कोरोना का खतरा है
अनाज मंडी में खाद-बीज, अनाज की दुकानें, पोस्ट आफिस, बैंक, मंडी सचिव का कार्यालय व जिले की सभी गाड़ियां आती हैं। ट्रैक्टर-ट्राली, पिकअप दिनभर खड़ी रहती है। यहां पर सोशल डिस्टेंसिंग कैसे होगी। टीन शेड नहीं है। अधिकारी हमारी बात को समझ नहीं रहे हैं। बुधवारा से ज्यादा भीड़ अनाज मंडी में लग रही है।
अकील अशरफ, अध्यक्ष, फल-सब्जी विक्रेता एसोसिएशन  
हमारे प्रांगण में सभी का स्वागत है 
कोरोना महामारी के चलते जिला प्रशासन ने अनाज मंडी में सब्जी व फल विक्रेताओं के लिए अस्थायी व्यवस्था की है। हमने किसी को नहीं भगाया। यहां सभी का स्वागत है। अगर कोई दुकान नहीं लगाने दे रहा है तो वे शिकायत कर सकते हैं। मंडी प्रशासन को कोई आपत्ति नहीं है। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन होना चाहिए।
दिलीप नागर, मंडी सचिव
आदेश का पालन करें वरना कार्रवाई 
17 अगस्त तक बुधवारा की सब्जी मंडी व फल विक्रेताओं को अस्थायी आदेश तक पुरानी अनाज मंडी में शिफ्ट करने के आदेश जारी हुए हैं। इसका पालन नहीं करने पर कार्रवाई की जाएगी। ऐसा कोरोना महामारी रोकने के लिए किया है। बुधवारा मंडी को लेकर निगम ने कोई निर्णय नहीं लिया है।
दिनेश मिश्रा, प्रभारी आयुक्त, निगम

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज वित्तीय स्थिति में सुधार आएगा। कुछ नया शुरू करने के लिए समय बहुत अनुकूल है। आपकी मेहनत व प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। विवाह योग्य लोगों के लिए किसी अच्छे रिश्ते संबंधित बातचीत शुर...

और पढ़ें

Advertisement