पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

सब्जी विक्रेता की हत्या:हत्या के बाद घर गया, कपड़े बदले, सिंगोट की ओर भागा; सूंघते हुए घर तक पहुंच गया डाॅग

खंडवाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पूछताछ के लिए पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में लिया
  • शहर में 22 दिन में दूसरी घटना, इस मामले में भी मृतक की आरोपी से रंजिश नहीं, जल्द होगी गिरफ्तारी

पंधाना रोड स्थित सब्जी मंडी के पास सोमवार सुबह सब्जी विक्रेता की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी गई। 22 दिन में शहर में यह दूसरी हत्या है। स्थान भी वहीं है पंधाना रोड। इस मामले में भी प्रारंभिक जांच में मृतक और आरोपी के बीच किसी तरह की रंजिश नहीं होने की जानकारी सामने आ रही है। इस मामले में भी घटना के समय कई लोग आसपास थे, लेकिन कोई खुलकर सामने नहीं आया। 20 जुलाई को पंधाना रोड स्थित माल गोदाम में ट्रक ड्राइवर अब्दुल हफीज (56) की हत्या भी बिना किसी कारण के कर दी थी। इसके ठीक 22 दिन बाद इसी रोड पर करीब 500 मीटर के दायरे में धनराज कनाड़े (20) की सरेराह हत्या कर आरोपी फरार हो गया। धनराज सब्जी लेकर घर लौट रहा था तभी आरोपी ने चाकुओं से वार कर दिए। जमीन पर गिरते ही धनराज के पेट में फिर चाकू मारे। इसके पांच-सात मिनट बाद लोग उसके पास पहुंचे। उसे अस्पताल रवाना किया। यहां डेढ़ घंटे उपचार के बाद धनराज ने दम तोड़ दिया। सुबह 9 बजे अस्पताल पहुंचे मृतक के परिजन व रिश्तेदारों ने पुलिस-प्रशासन से मांग कि पहले आरोपी को गिरफ्तार करो उसके बाद शव का पोस्टमार्टम करवाएंगे। धरना प्रदर्शन व हंगामे के बाद शाम 4 बजे पोस्टमार्टम के बाद अंतिम संस्कार किया गया। मामले में आरोपी के करीब पुलिस पहुंच चुकी है। गिरफ्तारी शेष है। पूछताछ के लिए कुछ लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है। सुरक्षा के लिहाज से शहर के सभी प्रमुख पाइंट पर पुलिसबल तैनात किया गया है। आरएएफ व क्यूआरएफ व एसएएफ का अतिरिक्त बल भी बुलाया गया।

...तो बच जाती धनराज की जान
प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक अगर कोई हिम्मत कर जोर से चिल्ला भी देता तो आरोपी इतने वार नहीं कर पाता और धनराज की जान बच सकती थी। हत्या के बाद शहर में दहशत का माहौल है। आक्रोशित लोगों ने कहा कि बेगुनाह लोगों का हुलिया और कपड़े देखकर आरोपी आसानी से निशाना बना रहे ऐसे लोगोें को शहर में रहने का अधिकार नहीं है।
एक मिनट के भीतर 16 वार किए
सीसीटीवी में दर्ज समयानुसार सुबह 7.24 पर आरोपी ने धनराज पर चाकू से वार किया। चाकू लगते ही सब्जियों की बोरी व धनराज जमीन पर गिर पड़ा। एक मिनट के भीतर 16 वार किए और फरार हो गया।

भाई बोला- किसीसीटीवी फुटेज से अहम साक्ष्य मिले हैं
घटनास्थल के आरोपी तक ऐसे पहुंची पुलिस
हफीज हत्याकांड से सबक मिलने के बाद सोमवार को हुई धनराज की हत्या की जानकारी मिलते ही तीनों थानों की पुलिस सक्रिय हो गई। सीएसपी ललित गठरे, टीआई बीएल मंडलाेई, बीएल अटोदे, एसआई पुष्पेंद्र सिंह राठौड़ व अन्य पुलिस अधिकारियों ने तत्काल जिम्मेदारी संभाल ली। अस्पताल से लेकर घटनास्थल व सभी प्रमुख नाकों तक पुलिस को सक्रिय किया। एसपी विवेक सिंह भी घटनास्थल पर पहुंच गए। घटनास्थल के आसपास दुकानों व शोरूम पर लगे सीसीटीवी कैमरों की रिकार्डिंग चैक की गई। इस दौरान स्नाइफर डॉग, एफएसएल टीम भी आ गई। सीसीटीवी फुटेज में काली पेंट व पीले रंग की टी-शर्ट पहने एक संदेही भागते हुए दिखाई दिया। इसके बाद एक अन्य कैमरे में पूरा घटनाक्रम दिखाई दिया। पुलिस ने कैमरों की रिकार्डिंग को अपने पास सुरक्षित रख लिया। स्नाइफर डॉग ने घटनास्थल को सूंघा और गुलमोहर कॉलोनी की ओर गया। कुछ दूरी तक चलने के बाद एक घर के बाहर रुका, जो आरोपी के दोस्त का है। यहां कुछ देर रुकने के बाद बड़ी नदी के पास एक मकान पर पहुंचा। यहीं से पुलिस को आरोपी का सुराग मिल गया। आरोपी के दोस्त ने कहा कि वह (आरोपी) मेरे पास आया तो था, लेकिन कुछ कहा नहीं और चला गया। इसके बाद आरोपी के घर पर उसके भाई से पुलिस ने बात की। सर्चिंग के दौरान डॉग की मदद से कपड़े, जूते व अन्य सामान जब्त किया है। इसके बाद आरोपी आबना नदी होते हुए गणगौर घाट के रास्ते कब्रिस्तान मार्ग पर पहुंचा। यहां उसके एक दोस्त ने उसे जसवाड़ी रोड तक छोड़ा और वापस अपने घर आ गया। सिंगोट-बलवाड़ा मार्ग पर आरोपी की लोकेशन मिली है।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय पूर्णतः आपके पक्ष में है। वर्तमान में की गई मेहनत का पूरा फल मिलेगा। साथ ही आप अपने अंदर अद्भुत आत्मविश्वास और आत्म बल महसूस करेंगे। शांति की चाह में किसी धार्मिक स्थल में भी समय व्यतीत ह...

और पढ़ें