पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • Without Passing The Examination, The 10th Students Were Satisfied With The Prescription, The 12th Ones Found It Difficult, After Screening And Sanitization At The Main Gate Of The School, The Students Were Given Entry In The Examination Hall.

कठिन परीक्षा:बगैर परीक्षा उत्तीर्ण हुए थे, पर्चे से 10वीं के छात्र संतुष्ट, 12वीं वालों को लगा कठिन, स्कूल के मुख्य द्वार पर स्क्रीनिंग व सैनिटाइजेशन करने के बाद विद्यार्थियों को दी परीक्षा हॉल में एंट्री

खंडवा20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
परीक्षा केंद्र उत्कृष्ट विद्यालय में परीक्षार्थियों की थर्मल स्क्रीनिंग की गई, फिर परीक्षा हॉल में प्रवेश दिया। - Dainik Bhaskar
परीक्षा केंद्र उत्कृष्ट विद्यालय में परीक्षार्थियों की थर्मल स्क्रीनिंग की गई, फिर परीक्षा हॉल में प्रवेश दिया।
  • 10वीं-12वीं में जनरल प्रमोशन से असंतुष्ट विद्यार्थियों की विशेष परीक्षा शुरू, पहले दिन 7 केंद्रों पर 76 ने दी परीक्षा

कोरोना काल में बगैर परीक्षा दिए उत्तीर्ण हुए असंतुष्ट विद्यार्थी दो साल में पहली बार परीक्षा देने परीक्षा केंद्र पहुंचे। यहां 10वीं के विद्यार्थियों को प्रश्नपत्र सरल लगा तो 12वीं के विद्यार्थी 3 घंटे में भी प्रश्नपत्र हल नहीं कर पाए। विद्यार्थियों को उम्मीद थी कि कोरोना काल के बाद हुई परीक्षा में प्रश्नपत्र सरल आएंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। हाईस्कूल व हायर सेकंडरी की विशेष परीक्षाएं सोमवार 6 सितंबर से जिले के 7 केंद्रों पर शुरू हुई। पहले दिन 10वीं कक्षा का विज्ञान व 12वीं कक्षा के रसायन शास्त्र, व्यावसायिक अध्ययन, कृषि विज्ञान के तत्व, इतिहास आदि विषयों के प्रश्नपत्र हुए।

समन्वयक संस्था शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय खंडवा के प्राचार्य आरके सेन ने बताया 10वीं के 38 व 12वीं के 83 परीक्षार्थियों ने परीक्षा देने के लिए ऑनलाइन आवेदन किए थे। जिले के 7 परीक्षा केन्द्रों पर हाईस्कूल परीक्षा में दर्ज 32 में से 25 परीक्षार्थी उपस्थित व 7 अनुपस्थित थे। वहीं हायर सेकंडरी परीक्षा में 65 में से 51 परीक्षार्थी उपस्थित व 14 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। नकल का एक भी प्रकरण नहीं बना।

10वीं के विद्यार्थी बोले- सरल था प्रश्नपत्र

अहमदपुर खैगांव के छात्र आयुष ने बताया रेमेडियल कोर्स में से प्रश्नपत्र निकाला गया था। जो कोर्स पढ़ा उसी में से प्रश्न भी पूछे गए। प्रश्नपत्र हल करने में कोई भी समस्या नहीं आई। हरसूद की छात्रा भूमिका ने बताया प्रश्नपत्र काफी सरल था, हल करने में परेशानी नहीं आई।

12वीं के विद्यार्थी बोले- पढ़ाई के लिए कम समय मिला

खुशी अहीर ने बताया व्यावसायिक अध्ययन का प्रश्नपत्र था। पहले पढ़ाई की थी फिर परीक्षा कैंसिल हो गई। इस बार परीक्षा हुई तो हल करना थोड़ा कठिन लगा। अर्चना मालाकार ने बताया केमेस्ट्री का पेपर था। जनरल प्रमोशन से मैं असंतुष्ट थी, और अधिक नंबर लाने के लिए परीक्षा दे रही हूं।

सभी के परीक्षाफल रोके, अब पास या फेल ही होंगे

जिले के जो विद्यार्थी विशेष परीक्षा दे रहे हैं, माध्यमिक शिक्षा मंडल ने इनके परीक्षाफल रोककर रखे हैं। अब या तो वे परीक्षा में उत्तीर्ण होंगे या फिर अनुत्तीर्ण। प्राचार्य उत्कृष्ट आरके सेन ने बताया इस संबंध में अब तक कोई निर्देश नहीं आए हैं।

खबरें और भी हैं...