• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Sagar
  • Niwari
  • If The Administration Works To Intimidate, Then Write Their Names In The Red Diary, They Will Be Corrected As Soon As The Government Changes.

पृथ्वीपुर विस उपचुनाव में विधायक चौधरी बोले:प्रशासन डराने का काम करे तो उनका नाम लाल डायरी में लिख लेना, सरकार बदलते ही उन्हें ठीक करेंगे

निवाड़ी/दतिया14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
निवाड़ी के पृथ्वीपुर में संबोधित करते विधायक कुणाल चौधरी। - Dainik Bhaskar
निवाड़ी के पृथ्वीपुर में संबोधित करते विधायक कुणाल चौधरी।

निवाड़ी के पृथ्वीपुर में कांग्रेस के पूर्व मध्य प्रदेश युवक कांग्रेस के अध्यक्ष और वर्तमान कालापीपल विधानसभा से विधायक कुणाल चौधरी पृथ्वीपुर विधानसभा चुनाव को लेकर पृथ्वीपुर आए थे। विधायक ने मंच से प्रधानमंत्री और गृहमंत्री का बिना नाम लिए उन्हें रंगा बिल्ला कहा.. इतना ही नहीं मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री का बिना नाम लिए और भी आपत्तिजनक शब्द कहे..

गुजरात से आए दो लोगों को मैं रंगा बिल्ला कहता हूं. क्या बोले रंगा बिल्ला...भाइयों.. बहनों.. मित्रों.. अच्छे दिन आएंगे काला धन लाएंगे...चुनाव के बाद पूछो भैया अच्छे दिन कब आएंगे...रंगा बिल्ला कहते हैं...अब कभी नहीं आएंगे। ये तीखे हमले मंगलवार को विधायक कुणाल चौधरी ने किए। कांग्रेस से कालापीपल विधायक कुणाल चौधरी ने पृथ्वीपुर विधानसभा चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी नितेंद्र सिंह के लिए प्रचार किया। इस दौरान उन्होंने बिना नाम लिए प्रधानमंत्री और गृहमंत्री, मुख्यमंत्री सहित पूरी भाजपा को निशाने पर लिया।

विधायक कुणाल चौधरी ने कहा कि प्रशासन डराने का काम करे तो उनका नाम...लाल डायरी में जरूर लिख लेना...अगली बार सरकार बदलने के बाद उनको भी ठीक करने का काम किया जाएगा। सीधी बात प्रशासनिक अधिकारियों से कह रहा हूं, कान खोल कर सुन लो.. लोकतंत्र के संविधान के लिए काम करोगे तो ज्यादा बेहतर होगा। पता कर लेना टीकमगढ़ में गया था। एक आंदोलन करके आया था। एक थाने वाले ने ओरछा में कुछ लोगों के कपड़े उतरवा दिए थे। उसकी वर्दी उतरवा दी थी। न मंत्री काम आएगा और न मुख्यमंत्री काम आएगा। यहां की जनता जो कहेगी वही काम आएगा।

दतिया में पीतांबरा के किए दर्शन

चौधरी देर शाम मां पितांबरा के दर्शन को दतिया पहुंचे। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि देश के मूल मुद्दों पर बात होना चाहिए जो सरकार नहीं कर रही है। लखीमपुर खीरी की घटना बहुत ही दुखद है किसानों की परेशानियों को सुलझाने के बजाय उन्हें कुचला जा रहा है। चाहे वह गरीब हो या मजलूम किसान को देश के मूल मुद्दों से भटकाने के लिए इस प्रकार के हथकंड़े अपनाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जीप से कुचलने वाले रक्षक ही जब मौत का कारण बने उस पर कार्रवाई होनी चाहिए।

खबरें और भी हैं...