पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गणगौर पर्व:माता की बाड़ियों में बोए जवारेे, 9 दिन तक घरों में होगी आराधना

सनावद6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 10 स्थानों पर माता की बाड़ी में बाेए ज्वारे

निमाड़ के प्रसिद्ध गणगौर पर्व को लेकर तैयारियां शुरू हो गई है। लोग जवारे बोने के लिए टोकनियों व अन्य शृंगार का सामान की खरीदी कर रहे हैं। नगर में 16 दिन की गणगौर माता का बिंदौरा निकाला गया। इसमें बालिकाओं को धणियर राजा व गौरा माता बनाकर बगीचे में जाकर फूलपाती खेली। झालावाड़ में लिए गए गणगौर के गीत व नृत्य महिलाओं ने प्रस्तुत किए।

अंजली विजय शर्मा ने बताया गणगौर का पर्व निमाड़ का प्रसिद्ध पर्व है। भगवान शिव व माता पार्वती की आराधना का प्रतीक है। कोविड-19 के कारण पिछले साल भी गणगौर का पर्व बड़े स्तर पर नहीं मनाया गया था। इस साल भी संक्रमण तेजी से फैल रहा है। इसके लिए इस पर्व को सादगी से मनाया जाएगा। महिलाओं ने धणियर राजा व गौरा माता से सभी के उत्तम स्वास्थ्य की कामना करते हुए कोरोना महामारी से मुक्ति दिलाने की प्रार्थना की। जल्द से कोरोना संक्रमण खत्म हो, जिससे अगले साल इस पर्व को बड़े स्तर पर मनाया जाएगा। मनीषा शर्मा, प्रभा राठौर, माया कुशवाह, सीमा जैन, अर्चना राठौर, निहारिका शर्मा, राधिका मंडलोई, पूनम शर्मा, लता शर्मा, सुनिता शर्मा सहित बड़ी संख्या में महिलाएं मौजूद थीं।
15 को घर ले जाएंगे जवारे
शहर में बुधवार को करीब 10 से अधिक स्थानों पर माता की बाड़ियों में जवारे बोए गए। गणगौर माता बैठाने वाले श्रद्धालु बाड़ियों में टोकनी व अन्य सामग्री लेकर पहुंचे। जिन्हें बाड़ियों में बोया गया। 15 अप्रैल को माता की बाड़ी दर्शन व ज्वारे लेने के लिए खोली जाएगी। इसके बाद माता के जवारों को श्रद्धालु घर लेकर जाएंगे। जिन्हें एक दिन अपने घर रखकर माता की आराधना की जाएगी। इसके बाद दूसरे दिन माता को विदाई दी जाएगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- ग्रह स्थिति अनुकूल है। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और हौसले को और अधिक बढ़ाएगा। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी काबू पाने में सक्षम रहेंगे। बातचीत के माध्यम से आप अपना काम भी निकलवा लेंगे। ...

    और पढ़ें