पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रास्ता कच्चा:हाईवे तक गर्भवती को कंधे के सहारे लाए, तब मिली एंबुलेंस

सेंधवा16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • परिजन बोले- पक्का रास्ता नहीं होने से होती है दिक्कत, डिलीवरी के बाद जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ

वरला तहसील के मालवन पंचायत के शंकर डावर फलिया स्थित मायके आई महिला को परिजन 4 दिन पहले गोदी में उठाकर व पैदल 3 किमी दूर हाइवे तक और वहां से निजी वाहन में बैठाकर सिविल अस्पताल लाए। महिला ने बेटे को जन्म दिया। शनिवार को महिला को छुट्टी दे दी गई। महिला के परिजनों ने बताया पक्का रोड नहीं होने से आवाजाही में दिक्कत है। जनप्रतिनिधियों से मांग के बाद रोड नहीं बना। सरपंच पति ने कहा निजी जमीन होने से रोड नहीं बना पा रहे।

शंकर डावर फलिया निवासी मुकेश डावर ने बताया उनकी गर्भवती बहन को 8 सितंबर को प्रसव पीड़ा हुई। फलिया से एबी रोड तक जाने का रास्ता कच्चा है। कीचड़ के कारण वाहन आजा नहीं सकते। इससे बहन कविता को गोदी में उठाकर और पैदल हाइवे तक ले गए। वहां एंबुलेंस को फोन किया। एंबुलेंस पहुंचने में समय लगता इसलिए निजी वाहन से सिविल अस्पताल सेंधवा लेकर गए। वहां बहन ने लड़के को जन्म दिया। दोनों को शनिवार को छुट्टी दे दी गई। महिला की रिश्तेदार ने बताया फलिया से एबी रोड पहुंचने का रास्ता कच्चा है। बारिश में कीचड़ रहता है। जनप्रतिनिधियों से मांग करने के बाद भी अभी तक कोई सुनवाई नहीं हुई।

नहीं है शासकीय जमीन: शंकर डावर सहित तीन फलिया से एबी रोड तक निजी जमीन है। इसलिए समस्या है। फलिया से एक ओर कुछ लोगों ने जमीन दान दी जिससे कुछ दूरी तक कच्चा रोड बनाया लेकिन आगे फिर निजी जमीन आ गई। लोग जमीन देंगे तो ही रोड बन पाएगा।
-जिरभान जाधव, सरपंच पति, ग्राम पंचायत मालवन

खबरें और भी हैं...