पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

परेशानी:गोई-काबरी-धूलकोट मार्ग पर निर्माण कार्य बंद, 3 किमी रोड बनाना अब भी शेष

सेंधवा13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
धनोरा में रोड की खुदाई के बाद काम बंद हो गया। - Dainik Bhaskar
धनोरा में रोड की खुदाई के बाद काम बंद हो गया।
  • इंजीनियर के अनुसार कोरोना महामारी के कारण बंद है काम, मजदूरों के लौटने पर होगा शुरू

गोई-काबरी-धूलकोट मार्ग पर सीमेंटीकृत रोड निर्माण समयसीमा बीतने के दो वर्ष बाद भी पूरा नहीं हो पाया है। कोरोना महामारी के चलते पिछले एक महीने से अधिक समय से काम बंद पड़ा हुआ है। ठेका लेने वाली कंपनी के अनुसार तीन किलोमीटर रोड के अलावा अन्य काम किया जाना बाकी है। गोई फाटे से खरगोन जिले के बिस्टान तक 76 किलोमीटर लंबे मार्ग पर सीमेंटीकरण करना है। मार्ग का 45 किलोमीटर हिस्सा बड़वानी जिले में और 31 किलोमीटर हिस्सा खरगोन जिले में आता है। मार्ग पर रोड की चौड़ाई बढ़ाकर 5.5 मीटर की गई है। इसके निर्माण की समयावधि मार्च 2019 थी लेकिन तय समयसीमा खत्म होने के 2 साल बाद भी रोड का निर्माण पूरा नहीं हो पाया है। फिलहाल कोरोना महामारी के चलते काम बंद पड़ा है। काम कब तक शुरू होगा अभी यह भी स्पष्ट नहीं है।

क्षेत्र के लोगों को होगा लाभ
चाचरिया क्षेत्र से खरगोन की दूरी कम है। यहां के व्यापारी खरगोन से खरीदी करते हैं। चाचरिया से आगे मार्ग की हालत खराब होने से खरगोन आने-जाने में दिक्कत होती थी। इसके अलावा हादसे की आशंका रहती थी। रोड की चौड़ाई बढ़ने से वाहन चालकों को सुविधा होगी। रोड बनने से व्यापारियों और लोगों को भी सुविधा होगी। रोड निर्माण के बाद ट्रैफिक बढ़ने से भी व्यापारियों को फायदा होगा।
संकेतक नहीं होने से होते हैं हादसे
मार्ग पर जितनी जगह सीमेंटीकृत रोड का निर्माण हो चुका है वहां संकेतक नहीं लगाए हैं। इसके अलावा कई जगह पटरी भी नहीं भरी गई है। इससे हादसे की आशंका रहती है। संकेतक बोर्ड लगाना निर्माण के अंत में होता है लेकिन लोगों के अनुसार निर्माण में विलंब हुआ है इसे देखते हुए बोर्ड लगा देने चाहिए थे। वहीं कुछ स्थानों पर खराब हो चुकी सीमेंटीकृत रोड की ऊपरी सतह को भी ठीक करने की मांग की गई है।

और इधर... धनोरा में भी बंद है काम, बारिश में होगी समस्या
गोई-काबरी-धूलकोट मार्ग के अंतर्गत धनोरा में 850 मीटर लंबे और 7 मीटर चौड़े सीसी रोड का निर्माण होना है। जीएचवी द्वारा ठेकेदार के माध्यम से एक माह पहले कार्य शुरू करवा दिया गया। पुराने रोड की खुदाई करवाई गई लेकिन फिलहाल काम बंद पड़ा है। गांव में रोड के साथ ही पेयजल की पाइप लाइन भी बिछाई जानी है। निर्माण में बाधक बिजली के खंभों को शिफ्ट किया जाएगा। ग्रामीणों के अनुसार रोड की खुदाई होने से बारिश में दिक्कत होगी। जल्द ही काम शुरू किया जाए।
तीन किमी में निर्माण शेष
रोड निर्माण में लगे कंपनी के मजदूर व कर्मचारी संक्रमित हुए थे। एक माह पहले एक कर्मचारी की मौत हो गई थी। कुछ अभी भी होम आइसोलेशन में हैं। इसके बाद से मजदूर अपने-अपने घर लौट गए। इससे एक माह से काम बंद पड़ा है। 3 किमी में रोड निर्माण और कुछ पुलियाओं का काम अधूरा है। मजदूरों के लौटने पर काम दोबारा शुरू किया जाएगा।
-शरतसिंह, इंजीनियर, जीएचवी कंपनी

खबरें और भी हैं...