आक्रोश / किसान बोला- अंकुरित नहीं हुआ बीज, सीएम हेल्पलाइन पर की शिकायत

Farmer said - Seed not sprouted, complaint on CM Helpline
X
Farmer said - Seed not sprouted, complaint on CM Helpline

  • ग्राम नंदगांव का मामला, किसान ने बोया था 25 पैकेज मिर्च का बीज

दैनिक भास्कर

May 30, 2020, 05:00 AM IST

ठीकरी. नगर के पास ग्राम नंदगांव के किसान ने 25 पैकेट मिर्च का बीज बोया था लेकिन बीज अंकुरित ही नहीं हुआ। इसके कारण किसान को नुकसान हुआ है। किसान ने बताया कि 15 पैकेट अलग कंपनी का व 10 पैकेट अलग कंपनी का बीज दुकानदार ने दिया था। बीज देते समय बोला गया था कि दोनों बीज ही बहुत अच्छे हैं लेकिन एक कंपनी का बीज अंकुरित ही नहीं हुआ। इस पर किसान ने डीलर से शिकायत की। इसके बाद सीएम हेल्पलाइन पर भी नकली बीज बेचने की शिकायत की है।
ग्राम नंदगांव के किसान दिलीपसिंह शेखावत ने बताया मैंने मिर्ची की फसल बोने के लिए खरगोन के पास टेमला से 15 पैकेट एक कंपनी के व 10 पैकेट अन्य कंपनी के बीज लेकर खेत में 30 अप्रैल को बोवनी की थी लेकिन जिस कंपनी के 15 पैकेट बीज लिए थे, उसका बीज अंकुरित ही नहीं हुआ। इसके बाद इसकी शिकायत डीलर से की। इसके बाद कंपनी के कर्मचारी दो बार किसान के खेत पर पहुंचे और देखा तो किसान को कंपनी वालों ने कहा कि अन्य सभी जगह हमारे बीज अंकुरित हुए हैं। आपके यहां ही अंकुरित नहीं हुए हैं। आपने कोई गलती की होगी। जबकि किसान ने बताया कि मैं तीन-चार साल से मिर्ची की फसल ले रहा हूं। एक ही साथ दोनों कंपनियों के बीज बोये थे। इसमें से अन्य कंपनी के बीज अंकुरित हो गए हैं।

सैंपल की रिपोर्ट आने तक दुकान से बिक जाता है नकली बीज
किसानों ने बताया कि खाद बीज को लेकर समय-समय पर कृषि विभाग अधिकारियों द्वारा खाद बीज के सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे जाते हैं लेकिन तब तक डीलर नकली बीज किसानों को बेच देते हैं। इसके बाद सैंपल की रिपोर्ट आने पर और बीज नकली निकलने की पुष्टि होने पर कृषि विभाग द्वारा केवल दुकानदार पर ही जुर्माना लगाया जाता है लेकिन इससे किसानों को कोई लाभ नहीं मिल पाता है। वहीं किसान को नकली बीज मिलने पर उसका मुआवजा भी नहीं दिया जाता है।

कंपनी पर लगे जुर्माना, किसान को मिले मुआवजा- भाकिसं
भारतीय किसान संघ के प्रकाश पटेल ने जानकारी देते हुए बताया कि किसान अपनी फसल को लेकर चिंतित हैं। व्यापारी और कंपनी उनकी एक नहीं सुन रहा है। किसान द्वारा लगाए गए बीज की जांच हो और उन्होंने संबंधित अधिकारियों से इसकी जांच की मांग की है। अगर बीज गलत पाया जाता है तो संबंधित निर्माता कंपनी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। साथ ही किसान को हुए नुकसान का मुआवजा देने की भी मांग की है।

किसान दिलीपसिंह ने डीलर व कंपनी पर लगाए गुमराह करने के आरोप
किसान का आरोप है कि दुकानदार और बीज निर्माता कंपनी द्वारा बीज खराब होने को लेकर गोलमोल रवैया अपनाया जा रहा है। जबकि बीज का पक्का बिल लिया है। सही ढंग से बीज की बुआई की गई थी। पानी भी समय-समय पर दिया गया था। अब मैं परेशान हूं। इसकी शिकायत सीएम हेल्पलाइन पर भी कर रहा हूं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना