युवक-युवती कोतवाली पहुंचे:खरगोन के बेरोजगारों से खंडवा में कोचिंग संचालक ने की ठगी

खरगोन6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

प्रधानमंत्री कौशल योजना के नाम पर बेरोजगार युवक-युवतियों के साथ धोखा हुआ है। ट्रेनिंग सेंटर के संचालक और उसके एक कर्मचारी के खिलाफ बड़ी संख्या में बेरोजगार युवा कोतवाली पहुंचे। इनमें खंडवा ही नहीं खरगोन जिले के युवक-युवतियां भी शामिल थी। उनका आरोप है कि 300 बेरोजगारों से अस्पताल में आपरेशन थिएटर टेक्नीशियन का कोर्स करवाने का झांसा देकर साढ़े 10 लाख रुपए ले लिए। बाद में न तो क्लास लगी न ही डिप्लोमा मिला।

रविवार दोपहर करीब ढाई बजे खालवा व कुंठा समेत खरगोन के युवक-युवती कोतवाली पहुंचे। यहां उन्होंने पुलिस काे नए बस स्टैंड के पास उड़ान ट्रेनिंग सेंटर के संचालक तौसिफ खान निवासी बुरहानपुर और कर्मचारी नंदू जमरा के खिलाफ धोखाधड़ी की शिकायत की है। डीएड कर चुके रामकृष्ण सिसोदिया ने बताया कि डेढ़ साल पहले हम एसएन कॉलेज में थे। तब कॉलेज के सामने उड़ान ट्रेनिंग सेंटर के पंपलेट बांटे गए थे।

एक दिन भी नहीं लगी क्लास, अब डिप्लोमा देने का झूठा वादा
बीएड कर चुकी मिश्री चौहान और एमएससी कर चुके लखन कुशवाह निवासी खरगोन सहित अन्य छात्रों ने बताया कि तौसिफ बुरहानपुर में बैठकर सेंटर चलाता है। यहां जमरा ही उसका काम देखता है। सेंटर वालों ने प्रत्येक विद्यार्थी से 3000 रुपए एडमिशन, ढाई सौ रुपए पोस्ट ऑफिस में खाता खुलवाने व 300 रुपए स्कॉलर व होस्टल के नाम पर लिए। लेकिन एक भी दिन क्लास नहीं लगी। एक साल बीत चुका है जब भी डिप्लोमा के बारे में उनसे बात की तो वह झूठा वादा करते रहे कि हम दे देंगे।
तीन माह से लगा रहे थाने के चक्कर-
विद्यािर्थयों का यह भी आरोप है कि वह थाने से लेकर तो कलेक्टर को शिकायत कर चुके है। बावजूद बेरोजगारों को ठगने वालों के खिलाफ कार्रवाई नहीं हो रही है। सिसोदिया का आरोप है कि हम फिर से आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज करवाने कोतवाली पहुंचे है।

दोषियों पर होगी कार्रवाई
"मामला हाल ही में मेरे संज्ञान में आया है। आवेदन की जांच होगी। जो दोषी होंगे उन पर कार्रवाई की जाएगी।"
- पूनमचंद्र यादव, सीएसपी

खबरें और भी हैं...