जिला पंचायत सीईओ ने कसरावद जनपद का किया भ्रमण:खलबुज़ुर्ग में स्कूली विद्यार्थियों के साथ किया मध्यान्ह भोजन, महेश्वर जनपद की ली बैठक

खरगोन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

खरगोन के बालसमुद के मेजमपुर स्थित काली बावड़ी का ऐतिहासिक महत्व जानकर जिला पंचायत सीईओ ज्योति शर्मा ने बावड़ी के पास मनरेगा से पार्क स्थापित करने के निर्देश दिए हैं। जिपं सीईओ मंगलवार को कसरावद जनपद में ग्रामीण विकास विभाग के कार्याें का अवलोकन करने पहुंची थी। बालसमुद की कॉलोनी मेजमपुर की बावड़ी का 1 लाख 27 हजार रुपये से जीर्णाेंद्धार कराया था। गांव के पूर्व सरपंच कमलेश पाटीदार ने बताया कि होल्करकालीन बावड़ी करीब 20 से 25 वर्षाें से अनुपयोगी हो गई थी। जीर्णाेद्धार के बाद मोटर पंप लगाकर अब उपयोगी हो गई। जीआरएस कमलेश सेन ने बताया कि यहां मरम्मत के कार्य पेबर और साफ सफाई के बाद पौधेरोपण किया गया। अब बावड़ी के पानी का उपयोग 300 पौधों के लिए किया जा रहा है।

खलबुज़ुर्ग में स्कूली विद्यार्थियों के साथ किया मध्यान्ह भोजन

कसरावद जनपद के भ्रमण के दौरान खलबुज़ुर्ग के माध्यमिक विद्यालय का औचक निरीक्षण किया। स्कूल में बनने वाले मध्यान्ह भोजन की जानकारी ली। भोजन की गुणवत्ता जांचने के लिए सीईओ शर्मा ने बालक बालिकाओं के साथ भोजन भी किया। भ्रमण के दौरान जिपं सीईओ शर्मा ने चिचली पंचायत में मनरेगा योजना में 3.37 लाख रुपए की लागत के तालाब का निरीक्षण किया। साथ ही बालसमुद में बने ड्वाट्स का भी अवलोकन किया।

महेश्वर जनपद के कार्याें की समीक्षा की

मनरेगा पीओ श्याम रघुवंशी ने जानकारी देते हुए बताया कि जिपं सीईओ शर्मा ने कसरावद जनपद का भ्रमण करने के पश्चात महेश्वर जनपद के कार्याें की समीक्षा महेश्वर जनपद में की। बैठक में उन्होंने लेबर बजट, पीएम आवास, आयुष्मान कार्ड, मनरेगा, एसबीएम, मध्यान्ह भोजन, स्व सहायता समूह आदि योजनाओं की समीक्षा की। इस दौरान अतिरिक्त जिपं सीईओ पुरुषोत्तम पाटीदार, जनपद सीईओ मीणा झा, पीओ शर्मिला मंडलोई, निर्मला कुशवाह, सुचिता खोड़े, गोविंद मंडलोई व उपयंत्री तथा जीआरएस उपस्थित रहे।

​​​​​​​

खबरें और भी हैं...