परेशानियों का सामना:इधर बोरावां अस्पताल में भी डॉक्टर नहीं

बोरावां2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के समाधान के लिए गांव में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बनाया गया। लेकिन अब भी गांव व आसपास के लोग इसके शुरू होने का इंतजार कर रहे है। अस्पताल में डॉक्टर नहीं होने से इन्हें छोटी-मोटी स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के लिए तहसील या जिला मुख्यालय के चक्कर लगाना पड़ रहे हैं।

गांव के महेंद्र यादव, जितेंद्र यादव व महेश यादव ने बताया अस्पताल को जल्द शुरू किया जाना चाहिए ताकि ग्रामीणों व आसपास के क्षेत्र के लोगों को उचित इलाज मिल सके। कोरोना जैसी माहमारी में भी क्षेत्र के लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा था। ग्रामीणों ने बताया अज्ञात लोग अस्पताल में लगे खिड़की-दरवाजों को तोड़ रहे है। खिड़की-दरवाजों पर लगे कांच भी फोड़ दिए। अस्पताल की देखरेख के लिए चौकीदार की भी जरूरत है।

खबरें और भी हैं...