जौरा न्यायालय ने सुनाया फैसला:जमीन के विवाद में हत्या करने वाले छह लोगों को आजीवन कारावास

अंबाह19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जौरा न्यायालय ने हत्या के मामले में छह लोगों को आजीवन कारावास की सुनाई है। आरापियों ने जमीन के विवाद में 2017 को बड़फरा के युवक राजवीर की हत्या कर दी थी। इस मामले में न्यायालय द्वितीय अपर सत्र न्यायाधीश ने शनिवार को फैसला सुनाया।

बड़फरा में जमीनी विवाद पर 46 लोगों ने मिलकर राजवीर व रघुराज पर हमला कर दिया। राजवीर को गोली मारने से उसकी मौत हो गई थी। रघुराज गंभीर रूप से घायल हो गया था। जौरा न्यायालय ने विक्की उर्फ विक्रम सिंह पुत्र जबर सिंह तोमर, रवि पुत्र ओमवीर सिंह तोमर, ओमवीर सिंह पुत्र हाकिम सिंह तोमर, जीतू उर्फ जितेंद्र सिंह पुत्र ओमवीर सिंह तोमर, करूआ उर्फ आशीष पुत्र ओमवीर सिंह तोमर, विवेक सिंह पुत्र जबर सिंह तोमर निवासी बड़फरा थाना अंबाह को मामले में दोषी पाते हुए सजा सुनाई।

10 मार्च 2017 को हुई इस वारदात के बाद अंबाह पुलिस ने इन छह आरोपियों के खिलाफ हत्या व हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज कर अभियोजन कोर्ट में पेश किया। प्रकरण में विवेचना के दौरान आई साक्ष्य अनुसार आरोपी करूआ की घटना में संलिप्तता होने पर आरोपी करूआ उर्फ आशीष तोमर के विरूद्ध भी अभियोग पत्र अपर सत्र न्यायालय अंबाह के समक्ष प्रस्तुत किया। न्यायालय ने सभी को धारा 302 में दोषी पाते हुए आजीवन कारावास सहित जुर्माने से दंडित किया।

खबरें और भी हैं...