बड़ी रेल लाइन बिछाने का काम प्रारंभ:मार्च 2023 तक गुणवत्ता के साथ कंपलीट चाहिए 48 किमी लंबाई में बड़ी लाइन व पुल-पुलियों का निर्माण

कैलारस16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

उत्तर मध्य रेलवे के महाप्रबंधक ने चेक किया ब्रॉडगेज प्रोजेक्ट का काम ग्वालियर-श्योपुर ब्राॅडगेज रेल लाइन के पहले चरण का निर्माण रेलवे को मार्च 2023 तक पूर्ण गुणवत्ता के साथ कंपलीट चाहिए। इसलिए निर्माण एजेंसी बारिश से पहले बड़े पुल व अर्थट्रेक का काम पूरा कराए। बारिश के बाद बड़ी रेल लाइन बिछाने का काम प्रारंभ होना चाहिए।

यह निर्देश उत्तर मध्य रेलवे के महाप्रबंधक प्रमोद कुमार ने दिए।महाप्रबंधक प्रमोद कुमार,शनिवार को बानमोर से कैलारस तक ब्रॉडगेज रेल प्रोजेक्ट के तहत बनाए जा रहे पांच बड़े पुलों समेत अर्थट्रेक के काम को चेक करने आए थे। सुबह 8 बजे बामौर गांव के सामने नेशनल हाईवे के आरयूवी के निर्माण समेत अर्थट्रेक को देखने के बाद बामौर में प्रस्तावित रेलवे स्टेशन की लोकेशन को दिखा

जीएम ने जाैरा में अलापुर रेलवे क्रॉसिंग पर निर्माणाधीन पुल के काम की गुणवत्ता पर डिप्टी चीफ इंजीनियर आकाश यादव से चर्चा की। कैलारस में बस स्टैंड के पास बनाए जा रहे आरयूवी को लेकर महाप्रबंधक ने कहा कि निर्माण कार्य पूरा होने के बाद रिटेनिंग वॉल पर अच्छे चित्र बनवाए जाएं जिससे यहां आने वाले लोगों को अच्छा वातावरण नजर आए। जीएम ने निर्देश दिए कि बारिश शुरू होने यानि 15 जून तक पुल व पुलियों के निर्माण कार्य यथासंभव पूर्ण कर लिए जाएं।

वर्षाकाल समाप्त होने के बाद बड़ी रेल लाइन बिछाने का काम शुरू किया जाए। क्योंकि मार्च 2023 तक पहले चरण में रायरू से लेकर जौरा 48 किमी में बड़ी रेल लाइन का ट्रेक बिछाने का काम पूरा हाे जाए ताकि ट्रेन की ट्रायल कराई जा सके। जीएम के साथ चीफ एडमिनिस्ट्रेटिव ऑफिसर शरद मेहता व मुख्य अभियंता सौरभ पटेल रहे।

खबरें और भी हैं...