• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Morena
  • Sahalag Started: If You Leave In Front Of The Marriage Garden In The Evening, Then Think That You Are Stuck In A Traffic Jam.

ट्रैफिक जाम की समस्या:सहालग शुरू: शाम को मैरिज गार्डन के सामने से निकले तो समझो ट्रैफिक जाम में फंसे

मुरैना6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बालाजी पैलेस के बाहर ट्रैफिक जाम में फंसे वाहन। - Dainik Bhaskar
बालाजी पैलेस के बाहर ट्रैफिक जाम में फंसे वाहन।

सहालग का सीजन शुरू होते ही मैरिज होम्स व गार्डन के सामने ट्रैफिक जाम की समस्या शुरू हो गई है। शहर में 20 से अधिक बड़े मैरिज गार्डन्स हैं लेकिन इनके यहां वाहन पार्क करने के लिए जगह नहीं है। बीते रोज शहर की माधौपुरा की पुलिया पर स्थित बालाजी पैलेस में फंक्शन के दौरान चार घंटे तक ट्रैफिक जाम रहा। माधौपुरा की पुलिया से अंबाह बायपास तक सड़क पर खड़े दो पहिया, चार पहिया वाहनों की वजह से लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। वहीं माधौपुरा की पुलिया पर 7 से अधिक मैरिज गार्डन हैं, जो एक-दूसरे के नजदीक हैं।

इनमें बालाजी पैलेस, दल्ली गार्डन, आनंदी वाटिका, उत्सव वाटिका, संजय पैलेस आदि शामिल हैं। सहालग में इस रूट से गुजरने पर आपका ट्रैफिक जाम में फंसना स्वाभाविक है। इसके अलावा नैनागढ़ रोड पर स्थित वासुदेव गार्डन, बीआर गार्डन, बीएन गार्डन, वनखंडी रोड स्थित तीन से चार मैरिज होम्स की वजह से ट्रैफिक जाम होता रहता है। वहीं वेयर हाउस व माधौपुरा रोड पर आधा दर्जन से अधिक मैरिज हाउस हैं।

इसलिए जिस दिन शादियां होती हैं उस दिन वेयर हाउस रोड व माधौपुरा रोड से निकल ही नहीं सकते। आलम यह होता है कि करीब करीब एक वाहन को निकलने में एक से डेढ़ घंटे का समय लग जाता है। इसी प्रकार वनखंडी रोड पर भी एक ही मालिक के तीन मैरिज हाउस हैं। इनमें शादी के दौरान आने वाले वाहन सड़क पर खड़े कर दिए जाते हैं, जिससे सड़क पर जाम लग जाता है। वहीं हाईकोर्ट ने मैरिज होम्स में पार्किंग के लिए जगह न होने पर कार्रवाई के सख्त निर्देश हैं। लेकिन नगर निगम के अफसरों ने अभी तक न तो किसी भी मैरिज होम्स पर पार्किंग न होने पर कार्रवाई तो छोड़िए नोटिस तक जारी नहीं किए हैं।

अभी शहर में यह हैं हालात
कुछ मैरिज हाउसों को छोड़ दिया जाए तो किसी भी मैरिज हाउस में वाहन पार्क करने के लिए निर्धारित जगह नहीं है। ऐसे में शादी विवाह में आने वाले वाहन सड़कों पर आड़े तिरछे खड़े होते हैंऔर सड़क पर जाम लगा देते हैं। जिन मैरिज हाउसों में जगह भी है वे भी वाहनों को अंदर पार्क नहीं कराते। मैरिज हाउसों में डीजे व अन्य ध्वनि विस्तारक यंत्र तेज आवाज में बजाए जाते हैं। 10 बजे के बाद भी यहां पर तेज आवाज होती रहती है। शादी विवाह के बाद निकलने वाली गंदगी को भी मैरिज हाउस संचालक सड़क पर ही डलवा देते हैं। जिससे लोग परेशान होते रहते हैं।

मैरिज होम्स संचालन के लिए यह है नियम
मैरिज हाउस में 35 फीसदी हिस्सा वाहनों की पार्किंग के लिए छोड़ा जाएगा। कोई भी वाहन सड़क पर पार्क नहीं होगा। मैरिज हाउस में डीजे व अन्य ध्वनि विस्तारक यंत्र रात्रि 10 बजे के बाद नहीं बजेंगे। चूंकि वर्तमान में परीक्षाएं चल रही हैं। इसलिए अभी पूरी तरह से इन यंत्रों पर प्रतिबंध रहेगा। मैरिज हाउसों के पास गंदगी नहीं होनी चाहिए।

खबरें और भी हैं...