भारतीय रेलवे में पानी की बर्बादी, VIDEO:इटारसी-भुसावल मेमू ट्रेन के कोच में व्यर्थ बहा पानी, देखे…यात्री निकलने को मजबूर

नर्मदापुरमएक महीने पहले

गर्मी के सीजन में पानी को लेकर हाहाकार मचा हुआ है। भारतीय रेलवे भी पानी बचाने के लिए तमाम अभियान, कार्यक्रम करती है। दूसरी भारतीय रेलवे का इटारसी जंक्शन है। जहां पानी बचाने को लेकर रेल कर्मी कितने गंभीर है। इसका अंदाजा आप इटारसी-भुसावल मेमू ट्रेन के कोच में गिर रहे पानी से लगा सकते है। ट्रेन के प्लेटफार्म नम्बर 5 पर खड़े होने के दौरान कोचों की टँकी भरने के बाद पानी ओवरफ्लो होकर बहने लगा। करीब 15मिनिट तक ट्रेन के कोच में टॉयलेट और गेट के पास पानी छत से गिरते रहा। जो बहकर यात्री बर्थ तक पहुँचा। गिरते पानी के नीचे से ही यात्री निकलने को मजबूर दिखे। लेकिन वॉटरिंग स्टॉफ कोच में लगे पाइप निकालने नहीं आया। यात्रियों ने कहा कि मुंबई लोकल ट्रेन की तर्ज पर चल रही इटारसी-भुसावल मेमू ट्रेन में सुविधा तो बहुत अच्छी है। ट्रेन में बर्थ भी अच्छी है। लेकिन देखरेख और सर्विस के अभाव में इसकी स्थिति भी पैसेंजर ट्रेन जैसी हो जाएगी। रेलवे के संबधित विभाग के अधिकारियों को इस ओर ध्यान देना चाहिए। लापरवाही करने वाले कर्मचारियों पर कार्रवाई होना चाहिए। ताकि गर्मी के संकट में व्यर्थ पानी बहने से बच सके।

इटारसी में आए दिन व्यर्थ बहता है पानी

इटारसी रेलवे जंक्शन पर वॉटरिंग करने का ठेका प्रायवेट कंपनी को दिया गया है। देखरेख की जिम्मेदारी C&W विभाग की होती है। कंपनी के कर्मचारी ही ट्रेनों के कोच की टँकी में पानी भरते है। जंक्शन पर पानी भरने में कर्मचारी लापरवाही बरते है। जिस कारण हजारों लीटर पानी रोजाना व्यर्थ बहता है।

खबरें और भी हैं...