आर्थिक तंगी की वजह से सामूहिक खुदकुशी:पिपरिया में कॉलेज कर्मचारी ने पत्नी-बेटी के साथ लगाई फांसी; छह महीने से नहीं मिला था वेतन

पिपरियाएक महीने पहले

नर्मदापुरम के पिपरिया में सोमवार को एक शख्स ने पूरे परिवार के साथ खुदकुशी कर ली। मृतक शासकीय भगत सिंह पीजी कॉलेज पिपरिया का दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी था। मकरंद विश्वकर्मा (45) ने पत्नी शशि विश्वकर्मा और बेटी निक्की विश्वकर्मा के साथ घर में फांसी लगा ली। तीनों के शव एक ही कमरे में लटके मिले। मकरंद को छह महीने से कॉलेज से वेतन नहीं मिला था। वो पचमढ़ी रोड पर पदमश्री टॉकीज के पीछे रहता था।

घटना का पता चलते ही आसपास के इलाके में हड़कंप मच गया। दोपहर करीब 12:00 बजे मकरंद का भतीजा उसके घर पहुंचा तब घटना का पता चला। भतीजे ने दरवाजा खटखटाया तो नहीं खुला। आसपास के लोगों ने खिड़की से झांक कर देखा तो सब हैरान रह गए। मकरंद उसकी पत्नी और बेटी फांसी पर लटके दिखे। मकरंद और उसकी बेटी के शव दो पंखों पर लटके थे, जबकि उसकी पत्नी शशि का शव कुंदे पर लटका था। उन्होंने तुरंत पुलिस को इसकी सूचना दी गई।

छह महीने से नहीं मिला था वेतन
मकरंद विश्वकर्मा के परिजन और पड़ोसियों ने बताया कि उसको कॉलेज से 6 माह से वेतन नहीं मिला था। वह परिवार के पालन पोषण के लिए बाकी समय में मजदूरी करता था। एसडीओपी शिवेंद्र जोशी ने बताया कि मकरंद के पास से सुसाइड नोट बरामद हुआ है। उसकी जांच कर रहे हैं।

मकरंद के साथ उसकी पुत्री निक्की।
मकरंद के साथ उसकी पुत्री निक्की।

कॉलेज का लैब अटेंडेंट ने भी किया था सुसाइड
पीजी कॉलेज पिपरिया में ही लैब अटेंडेंट राकेश रैकवार ने करीब 25 दिन पहले आत्महत्या की थी। उसने 16 पेज का सुसाइड नोट लिखा था। जिसमें मकरंद के शोषण की बात भी लिखी थी। राजेश ने प्राचार्य राजीव माहेश्वरी पर आरोप लगाए थे कि वे मकरंद से निजी कार्य कराते हैं। राकेश ने भी अपनी मौत का कारण कॉलेज में शोषण होना बताया था।

एसपी बोले- पूर्व बाबू और प्यून की खुदकुशी को जोड़कर होगी जांच
मामले की जांच के लिए सोमवार शाम नर्मदापुरम एसपी गुरुकरण सिंह FSL टीम के साथ पिपरिया पहुंचे। तीन डॉक्टरों की टीम ने पीएम किया। FSL टीम ने घटनास्थल से साक्ष्य जुटाए। एसपी ने कहा कि प्रारंभिक जांच करते हुए मर्ग कायम किया गया है। उन्होंने पीजी कॉलेज के पूर्व लैब आटटेंडेंट राकेश रायकवार की खुदकुशी और मकरंद की खुदकुशी मामले को जोड़कर आगे जांच किए जाने की बात कही। उन्होंने कहा कि यह गंभीर मामला है। सभी पहलुओं पर जांच की जाएगी।

पढ़ने में काफी तेज थी निक्की
मकरंद की बेटी निक्की पढ़ाई में श्रेष्ठ थी। उसने बोर्ड परीक्षा उत्कृष्ट अंकों से उत्तीर्ण की थी। निक्की को 15 अगस्त पर पुरस्कृत भी किया गया था। वह कॉलेज प्रथम वर्ष में अध्ययन कर रही थी।

मकरंद की पत्नी शशि विश्वकर्मा।
मकरंद की पत्नी शशि विश्वकर्मा।

करीब 25 दिन पहले कॉलेज के पूर्व लैब अटेंडेंट राकेश रायकवार ने ट्रेन से कटकर खुदकुशी कर ली थी। राकेश रैकवार का 16 पेज का सुसाइड नोट सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। GRP इसकी जांच कर रही है। रायकवार के पुत्र ने पिता की मौत की वजह कॉलेज प्रबंधन की प्रताड़ना बताया था। ​​​​​​

खुदकुशी की जानकारी लगने पर मौके पर पहुंचे मोहल्ले के लोग।
खुदकुशी की जानकारी लगने पर मौके पर पहुंचे मोहल्ले के लोग।