खेती पर संकट:पानी के अभाव में मूंग की फसल में नहीं आए फल, किसान ने ट्रैक्टर चलाकर नष्ट की खड़ी फसल

सिवनी मालवाएक महीने पहले

इन दिनों नर्मदापुरम जिले के मूंग उत्पादक किसान खासे परेशान हैं। नहर का पानी एवं बिजली नहीं मिलने से फसल सूखने के कगार पर है। किसान अपनी ही फसलों पर ट्रैक्टर चला रहे हैं।

सिवनी मालवा तहसील के ग्राम अमलाडा में किसान ने मूंग की खड़ी फसल पर ही हल चला दिया। इस साल बुवाई के बाद मूंग की फसलें आती तो दिखी। फसलों में फूल आने के समय गांव में नहर का पानी नहीं पहुंचा। बिजली भी नहीं मिलने से मोटर से भी पानी नहीं दिया जा सका। सूखे के कारण पूरी फसल के फूल झड़ गए। ऐसे में फसलों में फल ही नहीं आया। किसान केवलराम तंवर ने सात एकड़ में खड़ी मूंग की फसल पर ट्रैक्टर चला दिया।

नर्मदापुरम जिले की सिवनी मालवा में मूंग की फसल का रकवा इस वर्ष बढ़ा है। वर्ष 2020-21 में मूंग का रकवा 52,500 हेक्टेयर था, जो 2021-22 में 58 हजार हेक्टेयर हो गया। किसानों ने नहर का पानी मिलने की घोषणा होते ही मूंग की बोवनी शुरू कर दी थी। सही तरह से मूंग में 2 पानी ही मिल पाया। किसान केवल राम तंवर ने बताया कि इस वर्ष बिजली कटौती इतनी हुई कि मूंग में पानी ही नहीं दे पाए। मजबूरन खेत में खड़ी मूंग की फसल में ट्रैक्टर चलाना पड़ रहा है।

खबरें और भी हैं...