जावद में मानसून ने दे दी दस्तक:नगर सहित ग्रामीण इलाकों में हुई जोरदार बारिश, जगह-जगह धराशायी हुए पेड़

जावद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जावद में मानसून ने जोरदार दस्तक दे दी है। सोमवार को शाम के बाद मौसम में अचानक बदलाव हुआ और जावद सहित सिगोंली, रतनगढ़, नयागांव सहित कई इलाकों में जोरदार बारिश होती रही। तेज आंधी के कारण जगह-जगह पेड़ धराशायी हो गए। वहीं बिजली के खंभे और लाइन के तार भी टूट गए। जिसकी वजह से बारिश की शुरुआत के साथ ही बिजली गुल हो गई। मानसून की दस्तक के साथ किसानों के चेहरे खिल गए हैं।

दिनभर रही उमस

इसे पहले नगर में सुबह से लोग उमस भरी गर्मी से परेशान रहे। शाम 5 बजे के बाद काले घने बादल छा गए, इसके बाद जो बारिश शुरू हुई तो रात 9 बजे तक झमाझम तेज होती रही। इस बीच शहर की सड़कों के अलावा कई निचले इलाकों में पानी भरा गया।

मानसून की बारिश ना केवल जावद नगर में बल्कि नयागांव, सिगोंली, मोरवन, सरवानिया,डिकेन आदि क्षेत्रों में भी जमकर हुई। जिले में सुबह से ही आसमान में बादल छाए हुए थे। जिससे कई स्थानों पर सूर्य भी लुका-छुप्पी करता दिखा। वहीं दोपहर बाद आसमान में घने बादल छा गए और देखते ही देखते शहर में तेज हवाओं के साथ वर्षा शुरू हो गई।

पहली बारिश का लिया आनंद

एकाएक हुई बारिश से कई लोग भीग गए तो कई लोग बारिश का आनंद लेते भी दिखे। मौसम विभाग की माने तो एक-दो दिन में जिले में वर्षा हो सकती है। हालांकि इसके पूर्व रविवार को जिले के झांतला में भी रविवार को देर शाम तेज हवाओं के साथ वर्षा हुई थी। हालांकि कुछ समय बाद ही वर्षा रुक गई थी।

पिछले वर्ष इस समय जिले में बारिश हो चुकी थी और जिले के किसान खरीफ फसल की बोवनी में लग गए थे। लेकिन इस बार वर्षा नहीं होने से किसान को अच्छी वर्षा का इंतजार है। वहीं लगातार हो रहे मौसम में परिवर्तन से तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई। सोमवार को अधिकतम 32 व न्यूनतम 26 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

खबरें और भी हैं...