कर्बला में किए ताजिए ठंडे:मुस्लिम समुदाय ने चालीसवें मोहर्रम पर किया चेहल्लुम का एहतमाम

जावद19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सिंगोली कस्बे में मुस्लिम समुदाय द्वारा सदियों से चली आ रही परंपरा का निर्वाहन करते हुए हजरत इमाम हुसैन के चेहल्लुम का एहतमाम किया गया।

इस मौके पर कस्बे के परंपरागत मुख्य मार्गों से या हुसैन या हुसैन के नारों की बुलंद आवाज के साथ ताजिए का जुलूस निकाला गया।

इससे पहले बीती रात बड़ी मस्जिद से ताजिए का जुलूस शुरू हुआ जो चौधरी चौक, अहिंसा पथ और बापू बाजार होते हुआ फिर बड़ी मस्जिद पहुंचा व सुबह 11 बजे वापस शुरू हुआ जुलूस मुख्य मार्गों से होता हुआ शाम 5 बजे बापू बाजार पहुंचा, जहां नीमच, रतनगढ़ ओर बेगूं सहित स्थानीय अखाड़ा टीम के करतब बाजों ने हैरतअंगेज प्रदर्शन किया।

चेहल्लुम के मौके पर ग्रामीण क्षेत्रों से बड़ी संख्या अकीदत मंदों ने शिरकत की। ताजिये का जुलूस रात 12 बजे पुराने थाने के पास स्थित ब्राह्मणी नदी पर प्रतीकात्मक कर्बला पहुंचा जहां ताजिए को ठंडा किया गया।

चेहल्लुम के मौके पर मुस्लिम नोजवान कमेटी ने लंगर का आयोजन भी किया गया। इस दौरान पुख्ता सुरक्षा प्रबंध साथ थाना प्रभारी रमेशचंद दांगी ताजियों के जुलूस में मुस्तैद नजर आये।

अंजुमन कमेटी सदर मोहम्मद डॉ रईस खान, नायब सदर शौकत हुसैन, खजांची जमील हुसैन अब्बासी, सेकेट्री अशरफ शाह और तमाम मेंबरनों ने शांतिपूर्ण तरीके से सम्पन्न हुए कार्यक्रम के लिये आवाम व प्रशासनिक अधिकारियों, कर्मचारियों का शुक्रिया अदा किया।

खबरें और भी हैं...