• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Neemuch
  • BJP's Strategy For Damage Control Is Ready, Formation Of Ward Teams, Entrusted The Responsibility Of Persuading The Dissatisfied

नगरीय निकाय चुनाव:डैमेज कंट्रोल करने भाजपा की रणनीति तैयार, वार्ड टोलियों का गठन, सौंपा असंतुष्टों को मनाने का जिम्मा

नीमच2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पहला ऐसा मौका है, जब निकाय चुनाव में पार्षद प्रत्याशी के टिकिट वितरण के बाद भाजपा में भारी असंतोष देखने को मिला है। हालात यह रहे कि नीमच में कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन तक किए, जिसकी गूंज भोपाल तक जा पहुंची। जिस पर संभागीय समिति से भेजे गए मंदसौर के भाजपा नेता अनिल कियावत रविवार को नीमच पहुंचे और भाजपा के जिला पदाधिकारियों की बैठक लेकर डैमेज कंट्रोल करने केिए रणनीति तैयार की गई।

खास बात यह है कि असंतुष्टों को मनाने का जिम्मा वार्ड टोलियों को सौंपा गया है। नगरपालिका नीमच के 40 वार्ड में भाजपा प्रत्याशियों की घोषणा के बाद नाराजगी चरम पर पहुंच गई है, शहर के लगभग सभी वार्डों में टिकट नहीं मिलने से नाराज कार्यकर्ताओं और दावेदारों ने बागी तैवर दिखाते हुए भाजपा के अधिकृत उम्मीदवारों के सामने चुनाव लड़ने के लिए नामांकन दाखिल कर दिया है।

यही हाल जिले की अन्य नगर परिषदों का भी है। जीरन में तो कार्यकर्ताओं ने भाजपा जिलाध्यक्ष पवन पाटीदार और विधायक दिलीप सिंह परिहार के पुतले फुंक दिए थे। जिले में हुए विरोध की गूंज भोपाल तक पहुंचने के बाद भाजपा प्रत्याशी चयन संभागीय समिति के संयोजक वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने अपने खास मंदसौर जिला भाजपा के नेता अनिल कियावत को नीमच में डैमेज कंट्रोल करने के लिए प्रभारी बनाया है।

नाम वापसी का अंतिम दिन 22 जून है, जिसके मद्देनजर कियावत रविवार को नीमच पहुंचे थे और भाजपा जिला पदाधिकारियों की बैठक ली। जिसमें गहन मंथन के बाद तय किया कि नाम वापसी के अंतिम दिन तक रूठों को मनाने के प्रयास किए जाएंगे।

पदाधिकारियों ने दिया आश्वासन, मना लेंगे रूठों को

बताया जा रहा है कि बैठक में प्रत्येक वार्ड स्तर पर असंतुष्टों को मनाने वार्ड टोली का गठन करने के बाद भाजपा के जिला पदाधिकारियों ने डैमेज कंट्रोल प्रभारी कियावत को आश्वासन दिया कि जो बगावती तेवर दिखा रहे हैं, वे भाजपा के कर्मठ कार्यकर्ता, जिनकी नाराजगी को दूर किया जाएगा और रूठों को मना लिया जाएगा।

अपील समिति बदल सकती है शहर में आधा दर्जन प्रत्याशी

भाजपा के टिकट वितरण में भारी नाराजगी है, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि शहर के करीब 20 से अधिक वार्डों में पार्षद प्रत्याशी को बदलने के लिए अपील समिति को आवेदन भेजे गए हैं। भाजपा सुत्रों का कहना है कि शहर में टिकट वितरण के बाद जो नाराजगी की स्थिति बनी है, उसे देखते हुए करीब आधा दर्जन प्रत्याशी बदल सकते हैं।

खासकर उन वार्डों में जिनमें भाजपा के घोषित उम्मीदवारों को लेकर भारी बवाल मचा हुआ है। क्योंकि कार्यकर्ताओं ने निर्दलीय लड़ने का ऐलान कर नामांकन दाखिल करने के साथ ही अपने दायित्व भी छोड़ दिए या छोड़ रहे हैं। बताया जा रहा है कि अपील समिति आवेदनों पर आज सोमवार को विचार विमर्श करेगी।

खबरें और भी हैं...