• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Neemuch
  • Parties Trying To Persuade The Rebel Leaders, Pressure Is Being Made To Withdraw The Nomination Form

डेमेज कंट्रोल में जुटी पार्टियां:बगावत करने वाले नेताओं को मनाने में जुटी पार्टियां, नामांकन फार्म वापस लेने का बनाया जा रहा दबाव

नीमच2 महीने पहले

नगरीय निकाय चुनाव को लेकर भाजपा कांग्रेस की सूची जारी होने के बाद शहर के अधिकतर वार्डों में पार्टी से बगावत कर कार्यकर्ताओं ने निर्दलीय फार्म भर दिए हैं। अब दोनों पार्टियां डेमेज कंट्रोल में लगी हैं। कांग्रेस ने डेमेज कंट्रोल समिति का गठन किया है। वहीं भाजपा के जनप्रतिनिधि और वरिष्ठ कार्यकर्ता बगावत करने वाले को मना कर फार्म वापस करवाने में लगे हैं।

भाजपा ने साफा बांध कर किया सम्मान

भाजपा फार्म वापस लेने वाले उम्मीदवारों का साफा बांध कर सम्मान भी कर रही है। ऐसा ही नजारा मंगलवार को कलेक्टर कार्यालय के देखने को मिला। जहां भाजपा के जिलाध्यक्ष पवन पाटीदार, पूर्व नपा अध्यक्ष राकेश पप्पू जैन, सुनील कटारिया सहित अन्य नेता पार्टी से बगावत करने वाले उम्मीदवारों के साथ कलेक्टर कार्यालय पहुंचे और फार्म उठवाए गए। साथ ही फार्म वापस लेने वाले उम्मीदवारों का कलेक्टर कार्यालय परिसर में ही साफा बांधकर सम्मान किया गया।

10 दिन से नहीं उठा रहे फोन- कार्यकर्ता

पूर्व भाजपा के पार्षद प्रतिनिधि ने पार्टी हित में फार्म उठा लिया, लेकिन कलेक्टर कार्यालय में उन्होंने पवन पाटीदार जिलाध्यक्ष से कहा कि आप खुद मेरा फोन 10 दिनों से नहीं उठा रहे हैं। ऐसे में कार्यकर्ता की नाराजगी बनती है। हम लोग पार्टी के निष्ठावान कार्यकर्ता हैं, इसलिए पार्टी हित में फॉर्म वापस लिया है। कार्यकर्ता ने जिलाध्यक्ष से काफी देर तक बहस भी की।

पार्टी के उम्मीदवार के समर्थन में लें फार्म वापस- भाजपा जिलाध्यक्ष

भाजपा जिलाध्यक्ष पवन पाटीदार ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि भाजपा एक बड़ा परिवार है और पार्टी में कार्यकर्ताओं का एक बड़ा सक्रिय हुजूम है। पार्टी में एक अनुशासन है कोई भी कार्यकर्ता उस नियम को नहीं लांघेगा। अपना पक्ष और अपनी बात रखने का सभी को अधिकार है। जिन लोगों ने पार्टी से हटकर फार्म दाखिल किए हैं, वह पार्टी के उम्मीदवार के समर्थन में अपने फार्म वापस ले रहे हैं।

खबरें और भी हैं...