पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • 106 Deaths In The Company, Family Members Included, Indore, Ujjain, Ratlam, Dewas, Mandsaur, Burhanpur And Many Districts Including Victims

बिजली कंपनी पर कोरोना का साया:बिजली कंपनी के 79 कर्मचारी और उनके परिवार के 25 लोगों की अब तक कोरोना से मौत, सबसे ज्यादा प्रभावित इंदौर

इंदौर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बिजली कंपनी का कार्यालय। - Dainik Bhaskar
बिजली कंपनी का कार्यालय।

बिजली कंपनी के एक कार्यपालन यंत्री की मंगलवार को कोरोना संक्रमण से मौत हो गई। बताते हैं कि कंपनी से संबंधित 104 लोग कोरोना के कारण अपनी जान गवां चुके हैं। पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी में कोरोना की स्थिति भयावह हो गई है।

104 लोगों में से 79 लोग स्वयं विद्युत कर्मी थे और बाकी के किसी न किसी विद्युतकर्मी के परिजन थे, जिनमें माता, पिता, भाई, बहन, पुत्र, पुत्री शामिल हैं। इसमे सबसे ज्यादा मौत इंदौर में 24, उज्जैन में 14, रतलाम में 7, देवास में 12, मंदसौर में 8, खंडवा में 5, धार में 5, खरगोन में 7, आगर में 4 झाबुआ में पांच, बड़वानी में 3, शाजापुर में 4, नीमच और बुरहानपुर में 3-3 लोगों की मौत हुई है।

इन कर्मचारियों की मृत्यु की प्रमुख दो वजह है। एक तो इनमें से ज्यादातर को कंपनी किसी भी अस्पताल में एडमिट ही नहीं करा पाई, जिससे उन्हें ऑक्सीजन और आवश्यक दवाएं नहीं मिलने से उनकी मृत्यु हुई है। दूसरा कारण कि इनमें से कुछ को कंपनी ने शासकीय या लोअर दर्जे के प्राइवेट हॉस्पिटल में एडमिट तो करा दिया, लेकिन उन्हें या तो ऑक्सीजन बेड नहीं मिला या फिर जरूरत पर रेमडेसिविर इंजेक्शन नहीं मिल पाय।

अधिकतर मौत 25 से 35 साल के बीच
इस कारण इतनी अधिक संख्या में विद्युत कर्मी असमय ही काल के मुंह में समा गए। इनमें से कुछ विद्युतकर्मियों की उम्र तो महज 25 से 35 साल के बीच की ही थी। जिन कार्यपालन यंत्री की मौत हुई है, वह भी इसी उम्र के थे। यूनियन के पदाधिकारी कंपनी प्रशासन पर सवाल खड़े कर रहे हैं कि कंपनी ने उसके उज्जैन और इंदौर स्थित हॉस्पिटलों को समय रहते कोविड केयर सेंटर क्यों नहीं बनाया और उसमें ऑक्सीजन और आवश्यक दवाइयों की व्यवस्था क्यों नहीं की? जैसा कि पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने जबलपुर में उनके विद्युत कर्मियों के लिए कंपनी के हॉस्पिटल को विद्युत कर्मियों के लिए कोविड केयर सेंटर बना रखा है।

MP में 12,319 नए केस, 75 मौतें:भोपाल समेत 12 जिलों में नए संक्रमितों से ज्यादा लोग ठीक हुए, पॉजिटिविटी रेट भी 7 दिन में 4% से ज्यादा घटा

3 मई के कोरोना बुलेटिन
इंदौर में 1805 नए पॉजिटिव मामले सामने आए। 10667 सैंपल जांच के लिए भेजे गए और 7287 रैपिड टेस्टिंग सैंपल प्राप्त किए गए थे। जांच में 8757 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई थी। साथ ही इंदौर में पॉजिटिव मरीजों की कुल संख्या 118085 हो गई थी। सोमवार को 6 और लोगों की मौत के बाद मृतकों की कुल संख्या 1169 पर पहुंच गई थी। एक्टिव केस 11702 हो गई थी। सोमवार को 916 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए।

खबरें और भी हैं...