• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • On 15 August 11 People Killed 30 year old Ajay Family Members Protest Hamidia Hospital In Bhopal Madhya Pradesh

भोपाल में हत्याकांड:हमीदिया अस्पताल में हंगामा; परिजन शव घर ले जाने पर अड़े, पुलिस ने कहा- सीधे श्मशान घाट जाना होगा, बड़ी संख्या में पुलिसबल तैनात

भोपालएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अजय की मौत के बाद भोपाल के हमीदिया अस्पताल में युवक के समर्थन में बड़ी संख्या में भीड़ जमा हो गई।
  • पुलिस का तर्क- मरने वाले अजय का कोरोना टेस्ट भी कराया है, गाइडलाइन का पालन करना होगा
  • युवक के परिजन शुक्रवार देर रात से अस्पताल में डटे, दोस्तों ने अस्पताल के बाहर नारेबाजी भी की

भोपाल के शाहजहांनाबाद इलाके में युवक की हत्या के बाद हमीदिया अस्पताल में पोस्टमार्टम के दौरान जमकर हंगामा होने लगा। इसे देखते हुए मौके पर बड़ी संख्या में पुलिसबल तैनात किया गया है। परिजन पोस्टमार्टम के बाद शव को घर ले जाना चाहते हैं, जबकि पुलिस का कहना है कि कोविड-19 के चलते शव को सीधे श्मशान घाट ले जाना होगा। बहुत कम संख्या में लोग ही जाएंगे। इसी बात को लेकर परिजन और पुलिस आमने-सामने आ गए। कानून व्यवस्था को देखते हुए युवक के घर के आसपास भी पुलिसबल तैनात किया गया है। लोगों के हंगामा करने पर पुलिस ने बल प्रयोग कर खदेड़ दिया।

लोगों की भीड़ को देखते हुए हमीदिया अस्पताल में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है।
लोगों की भीड़ को देखते हुए हमीदिया अस्पताल में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है।

जानकारी के अनुसार, पुरानी रंजिश को लेकर शुक्रवार रात 11 लोगों ने बाजपेई नगर मल्टी में रहने वाले अजय कनाडे (23 साल) की हत्या कर दी थी। वारदात के दौरान वह अपने दो भाइयों के साथ घर जा रहा था। हत्याकांड घर के पास ही हुआ। पुलिस ने शव को हमीदिया अस्पताल पहुंचाया। परिजन रात को ही हमीदिया अस्पताल पहुंच गए थे। सुबह कड़ी सुरक्षा के बीच अजय का पोस्टमार्टम किया गया। उसका कोरोना सैंपल भी लिया गया। टीआई शाहजहांनाबाद जहीर खान ने बताया कि परिजन शव को बाजपेई नगर मल्टी अपने घर ले जाना चाहते हैं। वहां पहले से ही काफी भीड़ है। ऐसे में कोविड-19 के नियम को देखते हुए शव को सीधे श्मशान घाट ही ले जाने को कहा गया है, लेकिन परिजन इसको लेकर सहमत नहीं हैं।

अजय शुक्रवार रात घर लौट रहा था। तभी हमलावरों ने घटना को अंजाम दिया।- फाइल फोटो।
अजय शुक्रवार रात घर लौट रहा था। तभी हमलावरों ने घटना को अंजाम दिया।- फाइल फोटो।

सुबह से ही बढ़ती जा रही भीड़
हमीदिया अस्पताल में रात को जहां परिजन और कुछ मित्र थे। सुबह घटना की जानकारी मिलते ही काफी संख्या में भीड़ जमा हो गई। इसे देखते हुए पुलिस-प्रशासन ने अस्पताल के मुख्य गेट पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था लगा दी। बाहरी व्यक्तियों को अंदर नहीं जाने दिया जा रहा है। सिर्फ परिजन और इलाज के लिए जाने वाले लोगों को ही अस्पताल में प्रवेश दिया जा रहा है। इसके कारण रॉयल मार्केट के सामने वाले रास्ते पर ट्रैफिक भी बाधित हुआ। इधर, पुलिस अब तक तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है लेकिन परिजन सभी आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं।

अजय का कोरोना सैंपल भी लिया गया
पोस्टमाॅर्टम के पहले अजय का कोरोना सैंपल लिया गया है। उसके पॉजिटिव होने की भी खबर चल रही है। हालांकि पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की। पुलिस ने सिर्फ सैंपल लिए जाने की बात कही है। एसपी नॉर्थ के अनुसार, अस्पताल और पीड़ित के घर के पास सुरक्षा व्यवस्था लगाई गई है। हमारी पहली प्राथमिकता कानून व्यवस्था को बनाए रखना है।

यह आरोपी बनाए गए
पुलिस ने अजय के बड़े भाई अमित कनाड़े की शिकायत पर अजय उर्फ भूरा, अनिल, संदीप, रूपेश, रवि, अरुण सिंह उर्फ खुजाल, दीपक राखीनलवाला, चिन्ना उर्फ कालू, भूरा के भांजे सागर और यश नामजद आरोपी बनाए हैं।

अजय केस से जुड़ी यह खबर भी पढ़ सकते हैं:-

भोपाल में हत्या:तीन भाइयों पर उनके घर के पास धारदार हथियारों से हमला, एक की मौत; वारदात के पीछे पुरानी रंजिश

खबरें और भी हैं...