पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

3 दिन में 650 लोगों पर कार्रवाई:इंदौर की सड़कों पर कोरोना कर्फ्यू में बेवजह निकलने पर बढ़ी सख्ती, 200 को बसों में बिठाकर भेजा अस्थायी जेल

इंदौर2 महीने पहले
अस्थाई जेल में बैठाए गए बेवजह सड़क पर घूमने वाले।

इंदौर में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच सख्ती तेज हो गई है। बेवजह सड़कों पर निकले वालों को पुलिस ने सबक सिखा रही है। शुक्रवार को बिना कारण शहर में घूमने वाले करीब 200 व्यक्तियों को अस्थाई जेल भेजा। वहीं गुरुवार को भी कर्फ्यू के नियमों एवं कोरोना प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने वाले 249 व्यक्तियों को अस्थाई जेल भेजा था।

जिला प्रशासन द्वारा तीन दिनों में करीब 650 लोगों पर कार्रवाई की गई, इसमें खजराना, आजद नगर, तुकोगंज और राऊ में सबसे ज्यादा लोगों पर कार्रवाई हुई। कोरोना संक्रमण बढ़ने और अनावश्यक सड़कों पर निकल रहे लोगों की भीड़ कम करने के लिए बुधवार से सख्ती की गई।

पुलिस-प्रशासन, निगम की टीम ने शुक्रवार सुबह से धरपकड़ भी शुरू कर दी। इस चक्कर में मरीजों के परिजन से लेकर दवाई, इंजेक्शन या अन्य जरूरी काम से निकले लोगों को भी थानों में बैठा दिया गया।

कोरोना प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने वाले लोगों को अस्थायी जेल भेजने के लिए हर थाने को एक-एक बस भी दी गई है, जिनमें लोगों को भरकर अस्थायी जेल ले जाया जा रहा है। वहीं मास्क से लेकर अन्य उल्लंघन में भी लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

कोरोना कर्फ्यू का पालन कराने सुबह से ही प्रशासन की टीम सड़कों पर उतर आई है। बेवजह घूम रहे लोगों को समझाइश देकर उठक-बैठक भी लगवाई जा रही है। शुक्रवार सुबह मल्हारगंज, एरोड्रम व सदर बाजार क्षेत्र में 60 से अधिक लोगों को पकड़कर अस्थाई जेल पहुंचाया। इनमें से कुछ मास्क नहीं पहने थे। अधिकारियों का कहना है कि 30 अप्रैल तक ऐसी ही सख्ती लागू रहेगी।

खबरें और भी हैं...