मिसाल / भोपाल में सरस्वती शिशु मंदिर के 25 पूर्व छात्र स्कूल की मदद के लिए आगे आए; वाट्सएप ग्रुप पर जुटाए बच्चों की फीस के लिए 67 हजार रुपए

मंगलवार को शिवाजी नगर स्थित सरस्वती शिशु मंदिर स्कूल में पूर्व छात्रों ने प्रिंसिपल को 67 हजार रुपए का चेक सौंप दिया। मंगलवार को शिवाजी नगर स्थित सरस्वती शिशु मंदिर स्कूल में पूर्व छात्रों ने प्रिंसिपल को 67 हजार रुपए का चेक सौंप दिया।
X
मंगलवार को शिवाजी नगर स्थित सरस्वती शिशु मंदिर स्कूल में पूर्व छात्रों ने प्रिंसिपल को 67 हजार रुपए का चेक सौंप दिया।मंगलवार को शिवाजी नगर स्थित सरस्वती शिशु मंदिर स्कूल में पूर्व छात्रों ने प्रिंसिपल को 67 हजार रुपए का चेक सौंप दिया।

  • प्रिंसिपल को दिया चेक, कहा- जिस बच्चे को फीस भरने में परेशानी हो उसकी मदद कर दीजिए
  • अपनी स्कूल के प्रति पूर्व छात्रों ने जिम्मेदारी निभाते हुए 2 दिन में यह राशि सिर्फ चर्चा कर जुटा ली

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 08:06 PM IST

अनूप दुबे, भोपाल. भोपाल के शिवाजी नगर के सरस्वती शिशु मंदिर स्कूल के पूर्व छात्रों ने अपने स्कूल और बच्चों के लिए एक मिसाल पेश की है। उन्होंने स्कूल के कुछ बच्चों के फीस नहीं भर पाने की मजबूरी जानने के बाद वाट्सएप पर दो दिन में ही 67 हजार रुपए से अधिक जमा कर लिए। स्कूल के 1987 बैच के इन छात्रों प्रिंसिपल को इस राशि चेक मंगलवार को सौंप दिया। चेक मिलते ही प्रिंसिपल और शिक्षक भावुक हो गए। उन्होंने प्रिंसिपल शिवराज चौधरी और शिक्षकों से इस बारे में फीस जमा करने में परेशान होने वाले बच्चों को न बताने का भी आग्रह किया।

चेक मिलने के बाद शिक्षकों के चेहरे पर भी मुस्कान आ गई। बच्चों के माता-पिता के संपर्क में रहने के कारण सभी इसको लेकर कई दिनों से चिंतत थे। 

भोपाल की आकृति इको सिटी में रहने वाले 46 वर्षीय प्रवीण सिविल इंजीनियर हैं। उन्होंने बताया- स्कूल के हमारे एक परिचित शिक्षक ने स्कूल की परेशानियों के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि कुछ परिजनों ने इस बार स्कूल फीस जमा नहीं करने की अपनी मजबूरी बताई है। उसके बाद से ही प्रिंसिपल सर और हम सभी लोग परेशान हैं। अगर आप लोग कुछ कर सकते हैं, तो कुछ करें। प्रवीण ने बताया कि वे स्कूल से 1987 बैच के पासआउट हैं। उन्होंने बैच के करीब 25 छात्रों का एक वाट्सएप ग्रुप बनाया है। इस पर ही वे आपस में संपर्क में रहते हैं। इसमें भोपाल में रहने वाले महेश, रूपेंद्र और विनोद भी शामिल हैं। मैंने ग्रुप में इसको लेकर चर्चा की थी। उसके बाद दो दिन में ही सभी ने इसमें योगदान देते हुए 67 हजार 110 रुपए जमा कर लिए।

प्रिंसिपल सर चेक लेते हुए भावुक हो गए : प्रवीण
हमने स्कूल के प्रिंसिपल शिवराज चौधरी को चेक दिया। ऐसा करने के पीछे हमारा इरादा बस इतना है कि हम बच्चों को यह नहीं जताना चाह रहे कि हमने उनकी मदद की है। यह हमारे द्वारा बहुत छोटी मदद है। चेक लेते ही प्रिंसिपल सर बहुत भावुक हो गए। उन्होंने खुद कई लोगों को फोन पर इसके बारे में बताया। हम भी स्कूल स्टॉफ की खुशी देकर बहुत खुश हैं। ग्रुप में हमने इसके फोटो भी शेयर किए हैं। जरूरत पड़ी तो हम और मदद करेंगे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना