पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • MP Rajasthan Border Ban; Kamal Nath Says Will Speak To Ashok Gehlot Over Sheopur COVID Patients Treatment

श्योपुर के मरीज राजस्थान में करा सकेंगे इलाज:कमलनाथ ने गहलोत से बात कर हटवाया प्रतिबंध, कोटा व सवाई माधोपुर जाने से सीमा पर रोक रही थी राजस्थान पुलिस

मध्य प्रदेश2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजस्थान सरकार ने मध्यप्रदेश के श्याेपुर जिले से कोरोना का इलाज कराने कोटा व सवाई माधोपुर जाने वाले मरीजों पर लगाया प्रतिबंध हटा लिया है। इसे लेकर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से फोन पर बात की थी। मध्य प्रदेश की सीमा पर राजस्थान पुलिस तैनात की गई है। यहां राजस्थान में प्रवेश उसे ही दिया जा रहा था, जिनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव रहती है।

कमलनाथ ने जारी बयान में कहा है, महामारी में प्रदेश के श्योपुर में स्वास्थ्य सुविधाओं व संसाधनों के अभाव व ग्वालियर की ज्यादा दूरी होने के कारण स्थानीय लोग इलाज खासकर सीटी स्कैन व अन्य आवश्यक जांच के लिए बड़ी संख्या में नजदीकी राजस्थान के कोटा व सवाई माधोपुर नियमित रूप से जाते थे, लेकिन पिछले दिनों इन शहरों में जाने वाले मरीजों को पार्वती व चंबल नदी सीमाओं पर रोक दिया जाता है।

श्योपुर के लोगों ने इसकी शिकायत कमलनाथ से की थी। उन्होंने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से चर्चा की। प्रतिबंधों में शिथिलता प्रदान करने अनुरोध किया था। गहलोत ने तत्काल निर्णय लेते हुए स्थानीय प्रशासन के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि इलाज के लिए राजस्थान आने वालों को ना रोका जाए।

बता दें कि श्याेपुर में कोरोना के एक्टिव केस 604 हैं, लेकिन इलाज की पर्याप्त सुविधाएं नहीं होने के कारण यहां के लोग कोटा और सवाई माधोपुर जाते हैं। श्याेपुर में ऑक्सीजन बेड कुल 96 हैं, इसमें से 63 भरे हैं, जबकि आईसीयू बेड 11 में से 10 भरे हैं।

शिवराज की कमलनाथ से चर्चा
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को सुबह कमलनाथ से फोन पर चर्चा कर उन्हें प्रदेश में कोरोना की वर्तमान स्थिति से अवगत कराया। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के कई जिलों में बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए अभी प्रदेश में जनता कर्फ्यू व प्रतिबंधों को आगे बढ़ाए जाने की आवश्यकता है, ताकि कोरना के बढ़ते संक्रमण को रोका जा सके। इस पर उन्होंने कांग्रेस से समर्थन मांगा। इस पर कमलनाथ ने उन्हें कहा कि कांग्रेस इस संकट की घड़ी में पूरी तरह सरकार के साथ खड़ी है। उसके हर निर्णय के साथ हम खड़े हैं।

खबरें और भी हैं...