• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • BJP MLAs' Meeting Called Today And Tomorrow; Shivprakash And Murlidhar Rao Will Talk One to one, CM Will Not Be Present

सत्ता पर संगठन की कसावट!:बंद कमरे में चंबल के मंत्रियों-विधायकों से वन-टू-वन चर्चा; महाकौशल से उठी आवाज- सत्ता में भागीदारी चाहिए

भोपाल7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बीजेपी कार्यालय में विधायकों की बैठक शुरू हो गई है। पहले दिन बुधवार को पार्टी के राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री शिवप्रकाश, प्रदेश प्रभारी पी मुरलीधर राव और प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने चंबल के अलावा ग्वालियर, जबलपुर, सागर, रीवा और शहडोल संभाग के मंत्री-विधायकों से फीडबैक लिया। इसके बाद देर शाम 6 संभागों की संयुक्त बैठक हुई। इसमें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी मौजूद रहे।

पार्टी सूत्रों ने बताया कि महाकौशल के विधायकों ने संगठन के सामने सरकार में भागीदारी का मुद्दा उठाया है। एक विधायक ने कहा कि महाकौशल से मंत्री नहीं बनाए गए हैं। राज्य मंत्रिमंडल में अभी भी पद रिक्त हैं। इस क्षेत्र का प्रतिनिधित्व की बात संगठन के सामने रखी गई है।

बता दें कि मंत्रियों व विधायकों के साथ अलग-अलग बंद कमरे में चर्चा की। सबसे पहले चंबल क्षेत्र के मंत्रियों को बुलाया गया था। बुधवार को दिन भर में चंबल के अलावा ग्वालियर, जबलपुर, सागर, रीवा और शहडोल संभाग के मंत्री-विधायकों से फीडबैक लिया गया। इसी प्रकार 25 नवंबर को भोपाल, होशंगाबाद, उज्जैन और इंदौर संभाग के विधायकों की बैठक होगी।

खास बात है कि बैठक को सत्ता पर संगठन की कसावट के तौर पर देखा जा रहा है। यही वजह है कि बैठक का एजेंडा जारी नहीं हुआ था। यह पहला मौका होगा, जब शिवप्रकाश विधायकों से सीधे संवाद कर रहे हैं।

मिशन 2023 की तैयारी
BJP प्रदेश संगठन के पदाधिकारी ने बताया कि पार्टी अब 2023 में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुट गई है। विधायकों के साथ संगठन के पदाधिकारियों को जिम्मेदारियां दी जाएंगी। खासकर आदिवासी और दलित वोट बैंक को साधने के लिए सत्ता-संगठन के संयुक्त कार्यक्रमों की रूपरेखा भी तैयार की जाएगी। बैठकों के दौरान आगामी पंचायत और नगरीय निकाय चुनाव पर भी फोकस रहेगा।

26 को कार्यसमिति की बैठक
विधायकों की दो दिन बैठक चलने के बाद 26 नवंबर को प्रदेश कार्यसमिति की बैठक होगी। इसमें कई महत्वपूर्ण विषयों पर निर्णय लिए जाएंगे। BJP के प्रदेशाध्यक्ष और सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने बताया कि बैठक में राजनीतिक प्रस्ताव के साथ संगठनात्मक कार्य के विस्तार और कुशाभाऊ ठाकरे जन्मशताब्दी वर्ष में चल रहे कार्यक्रमों व अन्य विषयों पर चर्चा होगी। आगामी समय में संगठन कार्य को और मजबूत बनाने में हमारी भूमिका क्या होगी? इस पर मंथन होगा। बैठक में प्रदेश कार्यसमिति सदस्य, जिलाध्यक्ष, सीनियर नेता एवं प्रदेश शासन के मंत्री उपस्थित रहेंगे।

2 साल बाद हो रही बैठक
कोरोना महामारी के चलते अब तक वर्चुअल बैठकों का दौर चला है। अब कार्यसमिति की यह एक्चुअल बैठक होने वाली है। बैठक में चार सत्र होंगे। बैठक को आगामी समय में होने वाले नगरीय निकाय व पंचायत चुनावों के लिहाज से महत्वपूर्ण माना जा रहा है। इससे पहले राजगढ़ में 8 सितंबर को वर्चुअल बैठक हुई थी। बैठक में सिर्फ 55 पदाधिकारियों के साथ उपचुनाव और OBC आरक्षण को लेकर रणनीति बनाई गई थी।

बैठक में मध्यप्रदेश के राष्ट्रीय और प्रदेश पदाधिकारी शामिल होंगे
कार्यसमिति की बैठक भाजपा के राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री शिव प्रकाश, प्रदेश प्रभारी पी मुरलीधर राव सहित मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, ज्योतिरादित्य सिंधिया, प्रहलाद पटेल, डॉ. वीरेंद्र कुमार, फग्गन सिंह कुलस्ते, राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय, राष्ट्रीय अनुसूचित जाति मोर्चा के अध्यक्ष लालसिंह आर्य, ओमप्रकाश धुर्वे, सहित मध्यप्रदेश के राष्ट्रीय और प्रदेश पदाधिकारी शामिल होंगे।