पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Chief Minister Will Start 'Yoga To Nirog' Campaign Tomorrow, Tips Will Be Given To Increase Immunity Of Patients In Home Isolate And Kovid Center

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना से निपटने योग का सहारा:मुख्यमंत्री आज शुरू करेंगे 'योग से निरोग' अभियान, होम आइसोलेट व कोविड सेंटर में मरीजों की इम्युनिटी बढ़ाने के दिए जाएंगे टिप्स

भोपाल17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मध्य प्रदेश में काेरोना संक्रमण की रफ्तार कम होने का नाम नहीं ले रही। प्रदेश में एक्टिव केसों का आंकड़ा 85 हजार के करीब पहुंच चुका है। इनमें से कम संक्रमित 72% मरीज घरों में रहकर (होम आइसोलेट) इलाज करा रहे हैं। इन मरीजों में इम्युनिटी (रोग प्रतिरोधक क्षमता) बढ़ाने के लिए योग का सहारा ले रही है।

प्रदेश में 23 अप्रैल शुक्रवार से सभी कोविड सेंटर और होम आइसोलेट मरीजों में योगा के माध्यम से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने और मानसिक रूप से स्वस्थ्य रखने के लिए 'योग से निरोग' अभियान शुरू कर रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान दोपहर 3 बजे इसकी शुरुआत करेंगे। इस दौरान सभी जिलों के कोविड सेंटर से मरीज जुड़ेंगे, जिन्हें योग यानी अनुलोम-विलोम, प्राणायाम व अन्य तरीके विशेषज्ञों द्वारा बताया जाएगा।

योग से निरोग अभियान के लिए स्कूल शिक्षा विभाग का आदेश
योग से निरोग अभियान के लिए स्कूल शिक्षा विभाग का आदेश
योग से निरोग अभियान के लिए स्कूल शिक्षा विभाग का आदेश
योग से निरोग अभियान के लिए स्कूल शिक्षा विभाग का आदेश
योग से निरोग अभियान के लिए स्कूल शिक्षा विभाग का आदेश
योग से निरोग अभियान के लिए स्कूल शिक्षा विभाग का आदेश

इस संबंध में चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने बताया कि पतंजलि योग पीठ, स्कूल और आयुष विभाग के संयुक्त तत्वाधान में यह अभियान चलाया जाएगा। इसके लिए हर ट्रेनर को होम आइसोलेट मरीजों को योग कराने की जिम्मेदारी दी गई है। वे वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए दिन में दो बार योगाभ्यास कराएंगे। इसी तरह कोविड केयर सेंटर में सामूहिक तौर पर यह आयोजन होगा।

हर जोन में कोरोना सहायता केंद्र शुरु होगा
सारंग ने बताया कि सरकार ने नगर निगम के हर जोन मुख्यालय में कोरोना सहायता केंद्र शुरु करने का निर्णय लिया है। यह केंद्र भी शुक्रवार से शुरु हो जाएंगे। जहां संदिग्ध मरीजों की प्राथमिक जांच की जाएगी। यदि संक्रमित होने की आंशका रहेगी तो उनका टेस्ट कराया जाएगा और तत्काल मेडिसिन किट उन्हें उपलब्ध कराई जाएगी।

ऑक्सीजन सप्लाई बड़ी चुनौती, लेकिन कमी नहीं
सारंग ने कहा कि ऑक्सीजन की सप्लाई बड़ी चुनौती है। लेकिन फिलहाल कोई कमी नहीं हैं। उन्होंने आंकड़ों का हवाला देते हुए कहा है कि 21 अप्रैल को 405 टन ऑक्सीजन की आपूर्ति हुई। इसमें से 382 टन की खपत हुई।

9 मेडिकल कॉलेजों में CT-MRI मशीनों के लिए करार
उन्होंने बताया कि प्रदेश के सभी 9 मेडिकल कॉलेजों में सीटी स्केन और एमआरआई मशीनें उपलब्ध कराने के लिए करार किया जा चुका है। जल्दी ही यह सुविधा शुरु हो जाएगी। इसी तरह केंद्र सरकार ने 350 वेंटिलेटर उपलब्ध कराए हैं।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज घर के कार्यों को सुव्यवस्थित करने में व्यस्तता बनी रहेगी। परिवार जनों के साथ आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने संबंधी योजनाएं भी बनेंगे। कोई पुश्तैनी जमीन-जायदाद संबंधी कार्य आपसी सहमति द्वारा ...

और पढ़ें