पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • CM Shivraj Said Private Hospitals Will Be Built In Government Buildings, Till April 30, No One Should Come Out Of The House Unnecessarily

MP में सरकारी भवन में खुलेंगे प्राइवेट अस्पताल:CM शिवराज ने कहा- कोरोना से लड़ने में प्राइवेट हॉस्पिटल की भूमिका अहम; संकट विकट है, 30 अप्रैल तक बेवजह घर से न निकलें

भोपाल2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गांव, मोहल्लों, कॉलोनियों, बिल्डिंग्स आदि में लोग जनता कर्फ्यू लगाएं

मुख्यमंत्री ने कहा है कि मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 4 लाख के पार हो चुका है। अप्रैल के 17 दिनों में ही 1 लाख केस मिल चुके हैं। रविवार शाम 7 बजे मुख्यमंत्री संदेश के दौरान शिवराज सिंह चौहान ने कहा, काेरोना का संकट विकट है। इसके इलाज में निजी अस्पतालों की भी अहम भूमिका है। यदि इस समय कोई प्राइवेट हॉस्पिटल चालू करना चाहता है, तो उसे सरकारी भवन व अन्य सुविधाएं प्रदान की जाएंगी। उन्होंने कहा है कि 30 अप्रैल तक कोई भी अनावश्यक रूप से घर से न निकले। गांव, मोहल्लों, कॉलाेनियों, बिल्डिंग्स आदि में लोग जनता कर्फ्यू लगाएं।

भोपाल, इंदौर समेत जिन शहरों में एक्टिव केस की तादाद बढ़ती जा रही है, वहां एक सप्ताह के लिए लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है। यदि कोरोना की रफ्तार को काबू नहीं किया गया, तो सरकार आगे भी पाबंदियां बढ़ा सकती है। कल सोमवार से बढ़ाई गई लॉकडाउन की अवधि में पाबंदियां सख्त की जा रही हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह एक युद्ध है। इसमें सबको सारे मतभेद भुलाकर एकजुट होकर लड़ना पड़ेगा। सरकार अपने स्तर पर प्रयास कर रही है, लेकिन जब तक समाज का सहयोग नहीं मिलेगा, हम कोरोना को शीघ्र नियंत्रित नहीं कर पाएंगे। बीमारी के थोड़े भी लक्षण दिखने पर तुरंत जांच करवाएं। होम आइसोलेशन अथवा कोविड केयर सेंटर में रहकर इलाज लें। यहां सरकार द्वारा दवाओं, डाॅक्टर की परामर्श आदि की व्यवस्था है।

होम आइसोलेशन में सभी सुविधाएं

मुख्यमंत्री ने कहा कि होम आइसोलेशन में सरकार की ओर से कोरोना के इलाज की सभी सुविधाएं दी जा रही हैं। आवश्यकता होने पर अस्पताल ले जाने के लिए एंबुलेंस का इंतजाम किया जा रहा है। जिन मरीजों के घर में जगह कम है, वे कोविड केयर सेंटर में रहें। वहां पर दवाई के अलावा भोजन, चाय-नाश्ता आदि की व्यवस्था भी की गई है। सभी जिलों में कोविड केयर सेंटर चालू हो गए हैं।

बेड की संख्या बढ़ाई जा रही है

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार अस्पतालों में बेड की संख्या लगातार बढ़ाई जा रही है। जहां 01 अप्रैल को कुल 21 हजार 159 बेड उपलब्ध थे, वहीं अब बढ़कर ये 40 हजार 784 हो गए हैं। पिछले तीन दिनों में लगभग 3 हजार बेड्स बढ़े हैं। इसे 30 अप्रैल तक 50,000 बेड करने का लक्ष्य है।

कोरोना वाॅलंटियर्स बनें

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना वाॅलंटियर्स कोरोना के नियंत्रण में सक्रिय भूमिका निभा रहे हैं। सेवा का इच्छुक कोई भी व्यक्ति 181 पर कॉल कर कोरोना वाॅलंटियर बन सकता है। प्रदेश में अभी तक 97 हजार 500 कोरोना वाॅलंटियर्स रजिस्टर्ड हुए हैं।

30 अप्रैल तक 50 हजार बिस्तर करेंगे

मुख्यमंत्री ने ऑक्सीजन की आपूर्ति को लेकर भी आश्वस्त किया कि प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी नहीं होने दी जाएगी। उन्होंने कहा, 8 अप्रैल को ऑक्सीजन की आपूर्ति 130 मीट्रिक टन थी, जो 12 अप्रैल को बढ़कर 267 मीट्रिक टन हो गई। इसके बाद लगातार आपूर्ति बढ़ती गई। 30 अप्रैल तक ये मात्रा 700 मीट्रिक टन हो जाएगी।

इंजेक्शन के लिए प्राइवेट कंपनियों से चर्चा

मुख्यमंत्री ने कहा कि रेडमेसिविर इंजेक्शन के लिए केंद्र सरकार और प्राइवेट कंपनियों से चर्चा की जा रही है। इंजेक्शन और बाकी दवाओं की कमी न हो, इसके प्रयास किए जा रहे हैँ।

खबरें और भी हैं...