• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Corona In Madhya Pradesh Live And Updates, Above 100 Case Found In Mp

MP में कोरोना LIVE:भोपाल में 54 नए केस, 4 महीने के बच्चे समेत एक ही परिवार के 11 लोग संक्रमित

मध्य प्रदेशएक वर्ष पहले

भोपाल में रविवार को कोरोना के 54 नए केस मिले हैं। पुराने शहर में एक ही परिवार के 11 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें 4 महीने का बच्चा भी शामिल है। स्वास्थ्य विभाग इनकी कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग कर रहा है। इसके अलावा ग्वालियर में दूसरे दिन केस डबल हो गए। यहां 9 नए केस मिले हैं। इसके अलावा सागर और जबलपुर में 4-4 नए केस मिले हैं।

CM ने कहा- कोरोना सैंपल का टेस्ट बढ़ाएं

वहीं, दूसरी ओर मुख्यमंत्री ने रविवार को क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में कलेक्टरों को निर्देश दिए कि दवा- इंजेक्शन का कम से कम एक माह की स्टॉक हर जिले में रहना चाहिए। हर जिले में फीवर क्लीनिक फिर से शुरू करें। जिला स्तर के अलावा हर ब्लॉक में केविड केयर सेंटर बनाएं। उन्होंने कोरोना के सैंपल टेस्ट बढ़ाने के साथ यह भी कहा कि सैंपल रिपोर्ट 24 घंटे में रिपोर्ट आए, यह सुनिश्चित किया जाए। कोरोना मरीजों के इलाज के लिए तीन माह के लिए ( 1 जनवरी से 31 मार्च 2022 तक) प्राइवेट अस्पतालों से मुख्यमंत्री उपचार योजना के तहत अनुबंध करें। केविड कमांड व कंट्रोल सेंटर हर जिले में शुरू किए जाएं। उज्जैन, खंडवा, जबलपुर में 1-1 पॉजिटिव मिला है।

इससे पहले प्रदेश में 16 जून 2021 को 110 संक्रमित मिले थे। हालात बिगड़ते देख सरकार प्रदेश में नाइट कर्फ्यू के बाद अब भीड़ वाले इवेंट्स और इलाकों को लेकर फैसला कर सकती है।

पिछले साल दिसंबर के अंतिम सप्ताह में प्रदेश में हर रोज औसतन 1000 मरीज मिल रहे थे। इनकी संख्या जनवरी में घटना शुरू हुई और अंतिम सप्ताह में औसतन 200 मरीज तक आ गई थी। फरवरी तक यही स्थिति रही। इसके बाद लोग बेफिक्र हो गए और मास्क लगाना और सोशल डिस्टेंसिंग करना छोड़ दिया। नतीजा यह रहा मार्च के पहले सप्ताह में संक्रमितों की 400 तक पहुंच गई, जो मार्च के अंतिम सप्ताह में 2000 के पार थी। अप्रैल में हर रोज नए मरीजों की संख्या 10 हजार के पार थी।

मुख्यमंत्री चेता चुके, तीसरी लहर आ गई

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मान चुके हैं कि प्रदेश में तीसरी लहर आ चुकी है। उन्होंने कहा- कोरोना की तीसरी लहर आ गई है, जिसका सामना जन सहयोग से करना है। सभी आवश्यक सुविधा बना ली है, लेकिन सजग और सतर्क रहना है।

MP में ओमिक्रॉन के 10 केस
मध्य प्रदेश में ओमिक्रॉन मरीजों की संख्या बढ़कर 10 हो गई। शनिवार को ही छिंदवाड़ा में 26 साल की स्टूडेंट की रिपोर्ट में ओमिक्रॉन म्यूटेंट मिला। वह नीदरलैंद (यूरोपियन कंट्री) से लौटी है। इससे पहले इंदौर में भी 9 ओमिक्रॉन केस मिल चुके हैं।

खबरें और भी हैं...