पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal Corona Update | Coronavirus Bhopal Lockdown Extension News | Bhopal Jahangirabad COVID Cases Area Wise Hotspot Latest News Today Updates

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भोपाल में 810 मामले:भोपाल में 30 नए केस मिले, हॉट स्पॉट जहांगीराबाद में 7 महीने के बच्चे सहित 12 संक्रमित, जीएमसी के दो जूनियर डॉक्टर भी पॉजिटिव

भोपाल10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रदेश में कोरोना के सबसे बड़े हॉट स्पॉट जहांगीराबाद से प्रशासन लोगों को शिफ्ट कर रहा है। यहां से 2000 लोगों को शिफ्ट किया जाएगा। - Dainik Bhaskar
प्रदेश में कोरोना के सबसे बड़े हॉट स्पॉट जहांगीराबाद से प्रशासन लोगों को शिफ्ट कर रहा है। यहां से 2000 लोगों को शिफ्ट किया जाएगा।
  • भोपाल में 30 मई तक बढ़ सकता है लॉकडाउन, सीएम शिवराज की आज पीएम मोदी से चर्चा के बाद होगा निर्णय
  • प्रदेश के सबसे बड़े हॉट स्पॉट जहांगीराबाद में संक्रमित मरीजों की संख्या 189 पहुंची, यहां से लोगों को अस्थाई क्वरैंटाइन सेंटर में शिफ्ट कर रहे

भोपाल में कोरोना के 30 नए केस मिले हैं, इसमें प्रदेश के सबसे बड़े हॉट स्पॉट जहांगीराबाद में एक सात महीने के बच्चे सहित 12 नए केस सामने आए। जीएमसी के दो डॉक्टर भी संक्रमित पाए गए हैं। भोपाल में संख्या 810 हो गई है। प्रदेश के रेड जोन में शामिल भोपाल, इंदौर और उज्जैन जिलों में मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए लॉकडाउन का चौथा चरण लागू करने पर विचार चल रहा है। इंदौर के बाद भोपाल कलेक्टर ने भी लॉकडाउन नहीं हटाने की बात कही है। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के बीच होने वाली वीडियो कॉन्फ्रेंसिग में अंतिम निर्णय लिया जाएगा। 

जहांगीराबाद प्रदेश का सबसे बड़ा हॉट स्पॉट इलाका बन गया है। यहां पर हर रोज 15 से लेकर 20 मरीज पॉजिटिव निकल रहे हैं। अब तक यहां 189 कोरोना संक्रमित निकल चुके हैं, इसमें 9 लोगों की मौत भी हो चुकी है। यहां पर प्रशासन ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। शहर के दूसरे इलाकों की तुलना में जहांगीराबाद इलाके से हर रोज 300 लोगों का सैंपल लिया जा रहा है।

अब तक 3000 लोगों को शिफ्ट किया 
प्रशासन ने जहांगीराबाद इलाके में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। यहां पर पुलिस के अलावा राजस्व, स्वास्थ्य, नगर निगम और जिला प्रशासन की टीमें तैनात हैं। अभी तक 3000 से ज्यादा लोगों को शिफ्ट किया जा चुका है। सोमवार को 260 पुलिस कर्मियों को अस्थाई क्वारैंटाइन सेंटर में प्रशासन ने शिफ्ट किया गया है। प्रशासन का मानना है कि कोरोना की चेन तोड़ने में इससे मदद मिलेगी। प्रशासन ने पूरे इलाके को सील कर दिया है। लोगों को घरों में क्वारंटाइन किया गया है। 3 लेयर में सुरक्षा व्यवस्था लगाई गई है। 24 घंटे पुलिस अधिकारी कर्मचारी तैनात रहते हैं। इसके अलावा नगर निगम का अमला भी साफ सफाई के अलावा इलाके में जाकर सैनिटाइज करता है। राजस्व विभाग का अमला भी लगातार लोगों के सैंपल और डाटा तैयार कर रहा है।

74 वर्षीय मलीदा स्वस्थ होकर घर लौटीं 

कोरोना संक्रमितों का स्वस्थ होकर घर लौटने का सिलसिला जारी है। भोपाल से रविवार को 74 वर्षीय मालीदा समेत 32 लोग कोविड-19 को हराकर अस्पताल से डिस्चार्ज हुए। उन्होंने चिरायु अस्पताल प्रबंधन और शासन-प्रशासन को धन्यवाद दिया है। भोपाल में रिकवरी रेट 50 फीसदी से ज्यादा हो गया है। अब तक करीब 470 मरीज ठीक होकर घर लौट चुके हैं। भोपाल में जहांगीराबाद, कोहेफिजा, मंगलवारा, ऐशबाग, तलैया, मंगलवारा और अशोका गार्डेन हॉट स्पॉट बने हुए हैं। यहां पर लगातार संक्रमित मरीजों के निकलने का सिलसिला जारी है। अकेले जहांगीराबाद में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 170 तक पहुंच गई है।

भोपाल से रविवार को 74 वर्षीय मालीदा समेत 32 लोग कोविड-19 को हराकर अस्पताल से डिस्चार्ज हुए। भोपाल में कोरोना का रिकवरी रेट 50 फीसदी से ज्यादा है।
भोपाल से रविवार को 74 वर्षीय मालीदा समेत 32 लोग कोविड-19 को हराकर अस्पताल से डिस्चार्ज हुए। भोपाल में कोरोना का रिकवरी रेट 50 फीसदी से ज्यादा है।

जहांगीराबाद से 2000 लोगों को शिफ्ट करेंगे

प्रदेश के सबसे बड़े हॉट स्पॉट बने जहांगीराबाद में कोराेना की चेन ब्रेक करने के लिए नया प्रयोग किया जा रहा है। पहली बार वहां से ऐसे लोगों को शिफ्ट कर रहे हैं, जिनकी कोरोना टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। इनके अलावा पुलिस व अन्य विभागों के सरकारी कर्मचारियों के परिवारों को भी वहां से हटाया जा रहा है। शुरुआती तौर पर करीब 2000 लोगों को अन्यत्र भेजा जाएगा। रविवार को 200 लोगों को शिफ्ट कर दिया गया है। जहांगीराबाद में पहला कोरोना पाजिटिव मरीज 4 व मंगलवारा में 22 अप्रैल को मिला था। इसके बाद से दोनों इलाकों में मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है।

कलेक्टर ने कहा- अनुशासन का पालन करें 
कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने भोपाल में होम डिलिवरी करने वाले, सब्जी विक्रेताओं, सरकारी कर्मचारियों के लिए आरोग्य सेतु डाउनलोड करना अनिवार्य कर दिया गया है। इधर, कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने भोपाल की जनता से अपील की है कि आप स्वयं के अनुशासन का पालन करें। हम सब जीत की ओर बढ़ रहे है। बिना मास्क के घर से बाहर ना निकले,घर के बाहर गया आपका हर कदम आपको नुकसान पहुचा सकता है। सुरक्षित रहे और परिवार बच्चों के लिए कृपया घर पर रहें। 

चिरायु अस्पताल और एम्स से कोरोना से ठीक होकर मरीज डिस्चार्ज हो रहे हैं।
चिरायु अस्पताल और एम्स से कोरोना से ठीक होकर मरीज डिस्चार्ज हो रहे हैं।

सिर्फ 6 दिन में 5 से 25 हो गए गंभीर मरीज
राजधानी में कोरोना संक्रमण के साथ ही गंभीर मरीजों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है। इस समय शहर के तीन अलग–अलग अस्पतालों में कोरोना के 307 पॉजिटिव मरीज भर्ती हैं। इनमें से 25 गंभीर हैं। सभी को इलाज के लिए आईसीयू में शिफ्ट किया गया है। 17 मरीजों को ऑक्सीजन सपोर्ट पर जबकि 2 को वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया है। गौरतलब है कि 2 मई को भोपाल में कोरोना पॉजिटिव मरीजों में केवल 5 ही गंभीर हालत में थे और उन्हें आईसीयू में भर्ती किया गया था। लेकिन, अगले छह दिनों में कोरोना पॉजिटिव अन्य 23 मरीजों की तबीयत भी ज्यादा बिगड़ गई है। सभी को आईसीयू में भर्ती कर, विशेषज्ञ डॉक्टरों की निगरानी में इलाज किया जा रहा है। 

देर से अस्पताल पहुंचने के कारण बनी ये स्थिति 
डॉ. प्रभाकर तिवारी,  सीएमएचओ के मुताबिक, एम्स, हमीदिया, चिरायु में भर्ती कोरोना पॉजिटिव मरीजों में से 25 की हालत क्रिटिकल है। डॉक्टर्स मरीज की संभावित बीमारी की पहचान कर, उनका इलाज कर रहे हैं। पॉजिटिव मरीजों की संख्या अचानक नहीं बढ़ी है। इसकी वजह संबंधित मरीजों का अस्पताल में कोरोना जांच और इलाज के लिए देरी से पहुंचना है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही है। व्यक्तिगत और पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। बच्चों की शिक्षा और करियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी आ...

    और पढ़ें