• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Digvijay Singh Remark; National Children's Commission Letter To DGP Of Madhya Pradesh

दिग्विजय के शिशु मंदिर वाले बयान पर होगी FIR:राष्ट्रीय बाल आयोग ने DGP को लिखा पत्र; कहा- पूर्व CM के बयान से बच्चों के सम्मान को ठेस पहुंची, FIR दर्ज करें

मध्य प्रदेश9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राष्ट्रीय बाल आयोग के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रियंक कानूनगो (लेफ्ट) और दिग्विजय सिंह (राइट ) - फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
राष्ट्रीय बाल आयोग के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रियंक कानूनगो (लेफ्ट) और दिग्विजय सिंह (राइट ) - फाइल फोटो।

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का सरस्वती शिशु मंदिर को लेकर आया बयान अब तूल पकड़ता जा रहा है। राष्ट्रीय बाल आयोग ने मध्यप्रदेश के DGP को पत्र लिखकर दिग्विजय के खिलाफ FIR दर्ज करने को कहा है। इससे पहले BJP प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय भी दिग्विजय सिंह को आड़े हाथ ले चुके हैं।

दिग्विजय सिंह ने कहा था कि हम जिनसे लड़ रहे हैं, उन्हें शिशु मंदिर से ही नफरत सिखाई जाती है। इनकी नफरत के कारण ही देश में दंगे होते हैं। उन्होंने केंद्र और राज्य सरकार की जनविरोधी नीतियों को लेकर 19 विपक्षी दलों द्वारा शनिवार को प्रदर्शन के दौरान कहा था कि हिंदुस्तान और पाकिस्तान बनाने की सबसे पहली पहल वीर सावरकर ने की थी।

पत्र में ये लिखा
राष्ट्रीय बाल आयोग के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रियंक कानूनगो ने सोमवार को DGP विवेक जौहरी को पत्र लिखा है। उन्होंने कहा है कि दिग्विजय सिंह के बयान पर सरस्वती शिशु मंदिर में पढ़ने वाले कुछ बच्चों ने आयोग से संज्ञान लेने का अनुरोध किया है। बच्चों का कहना है कि कांग्रेस नेता के बयान से उन्हें आघात लगा है। कानूनगो ने कहा कि बच्चों के शिकायती से प्रतीत होता है कि दिग्विजय सिंह की टिप्पणी से उनके मान-सम्मान को ठेस पहुंची है। उनकी टिप्पणी भारतीय दंड संहिता की धारा 153A (A)(B), 504 व 505 का उल्लंघन है। इसके साथ ही किशोर न्याय अधिनियम 2015 की धाराओं का उल्लंघन भी हुआ है। आयोग ने DGP से कहा है कि मामले में FIR कर 7 दिन में रिपोर्ट दें। आयोग ने बच्चों की शिकायत की प्रति भी DGP को भेजी है और कहा है कि बच्चों की पहचान को गोपनीय रखा जाए।

भोपाल संयुक्त विपक्षी दलों का धरना:दिग्विजय सिंह बोले- हम जिनसे लड़ रहे हैं, उन्हें शिशु मंदिर से ही नफरत सिखाई जाती है ; इनकी नफरत के कारण ही देश में दंगे होते हैं

कैलाश विजयवर्गीय ने दिग्विजय को घेरा
BJP महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने रविवार को सोशल मीडिया पर लिखा- दिग्विजय जी, सरस्वती शिशु मंदिर के बच्चे रोज प्रार्थना करते हैं- एक प्रार्थना हे जगदीश्वर, नित्य तुम्हारे चरणों में, लग जाये तन-मन मेरा, मातृभूमि की सेवा में। सरस्वती शिशु मंदिर देश भक्ति की पाठशाला हैं, इन पर अंगुली केवल मतिभ्रम का शिकार व्यक्ति ही उठा सकता है।

उन्होंने आगे लिखा कि दिग्विजय जी आतंकवादी ओसामा के नाम के साथ 'जी' लगाना, आतंकी जाकिर नाइक को 'शांतिदूत' बताना, बाटला हाउस एनकाउंटर को झूठा बोलकर इंस्पेक्टर मोहन शर्मा की शहादत को अपमानित करना, सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगना, ये सब कांग्रेस की किस पाठशाला में पढ़ाया जाता है, देश जानना चाहता है।

शर्मा बोले- क्या मदरसों में राष्ट्रवादी तैयार होते हैं?
BJP के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने पूर्व दिग्विजय सिंह पर पलटवार किया है। शर्मा ने दिग्विजय सिंह से सवाल किया कि क्या मदरसों में राष्ट्रवादी लोग तैयार होते हैं? जो व्यक्ति आतंकवाद और नक्सलियों के साथ खड़ा होता है, वह राष्ट्रवादी संगठन RSS और शिशु मंदिर पर सवाल खड़े कर रहा है। दिग्विजय के इन आरोपों पर BJP के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने रविवार को छतरपुर में मीडिया से बात करते हुए जवाब दिया। उन्होंने कहा कि सरस्वती शिशु मंदिर में राष्ट्रवाद का पाठ पढ़ाया जाता है, नफरत का नहीं।

खबरें और भी हैं...