पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Morena
  • Gurjars On Social Media Beaten The Vulgar Comment On The Sister daughters Of The Kshatriyas, The Commentary Boy First, Then Smashed His Bike With A Stone.

लॉकडाउन में बवाल, खड़ी देखती रही पुलिस:सोशल मीडिया पर गुर्जरों ने क्षत्रियों की बहन-बेटियों पर किए अश्लील कमेंट, कमेंट करने वाले लड़के को पहले जमकर पीटा, फिर उसकी बाइक को पत्थर पटक कर तोड़ा

मुरैनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गुर्जर जाति के लड़के की टूटी पड़� - Dainik Bhaskar
गुर्जर जाति के लड़के की टूटी पड़�
  • पुलिस की कार्यप्रणाली पर लग रहे सवालिया निशान

मुरैना। शहर में आज उस समय अराजकता का माहौल उत्पन्न हो गया, जब गुर्जर जाति के एक लड़के को क्षत्रिय जाति के लड़कों ने घेर लिया और उसे लाठी डंडों से जमकर पीटा। इस पर भी जब उनका मन नहीं भरा, तो उन्होंने उसकी बाइक को पत्थर पटक-पटक कर तोड डाला। घटना गुरुवार की सुबह आमपुरा क्षेत्र की है। सोशल मीडया(फेसबुक) पर गुर्जर जाति के लड़के ने क्षत्रिय जाति की महिलाओं के विषय में अश्लील कमेंट किए। इसके बाद उसके विरोध में क्षत्रिय जाति को लोगों ने भी जवाबी कमेंट किए। इस पर कोतवाली थाना पुलिस ने आईटी एक्ट के तहत कमेंट करने वाले लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर दिया था। शुक्रवार को सुबह आमपुरा क्षेत्र में कमेंट करने वाला लड़का गुजर रहा था, कि तभी घात लगाए बैठे क्षत्रिय समाज के लोगों ने उसे घेर लिया और उसकी लाठी-डंडो से जमकर पिटाई कर दी। इस पर भी जब उनका मन नहीं भरा, तो उन्होंने उसकी मोटरराइकिल को पत्थर पटक-पटक कर तोड़ डाला।

गुर्जर समाज के लड़के को पीटते लोग
गुर्जर समाज के लड़के को पीटते लोग

लॉकडाउन में कैसे हुआ बवेला, क्या करती रही पुलिस
सवाल यह है कि पूरे जिले में लॉकडाउन लगा है। ऐसे में कोई आदमी भी अगर घर से बाहर निकल रहा है तो उसे पुलिस टोकती है। ऐसे में इतनी बड़ी भीड़ एकित्रत हो गई और उसने लड़के को पीटा व मोटरसाइकिल क्षतिग्रस्त कर दी। यह घटना पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लगा रही है।

कहती हैं थाना प्रभारी
इस संबंध में जब कोतवाली थाना प्रभारी आरती चराटे से बात की, तो उन्होंने बताया, कि सोशल मीडया का दुरपयोग करने तथा अश्लील बातें लिखने पर गुर्जर जाति के लड़कों पर आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है। कल हम दोनों समाज के लोगों को बुलवाएंगे तथा बैठकर समझाएंगे।