MP में कोरोना LIVE:जबलपुर में दिसंबर में 48 केस मिले, 8 नए मामले, CM ने टेस्टिंग बढ़ाने को कहा, अफसरों ने घटा दी

मध्यप्रदेश7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जबलपुर में दिसंबर महीने में कोरोना के 48 केस सामने आए हैं। शुक्रवार को आई रिपोर्ट में 8 नए संक्रमित मिले हैं। एक्टिव केस में 5, 12, 14 व 16 वर्ष के बच्चे भी शामिल हैं। बच्चे जहां वृंदावन से आए। अन्य संक्रमितों में दिल्ली गए दो व्यापारी, सूरत में शादी से लौटे तीन लोग शामिल हैं। संक्रमितों में बच्चों को छोड़कर सभी टीका लगवा चुके हैं। यही कारण है कि उनमें सामान्य लक्षण हैं। ट्रैवल हिस्ट्री ने चिंता बढ़ा दी है।

सीएम ने कहा- टेस्ट बढ़ाइए, अफसरों ने घटा दिए

मध्यप्रदेश में बीते 24 घंटे में कोरोना के 77 नए केस मिले हैं। सबसे ज्यादा 43 पॉजिटिव इंदौर में मिले हैं। राज्य में अब नए वैरिएंट के 9 केस हो गए हैं। कहा जा रहा है कि इंदौर में स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही से कोरोना विस्फोट हुआ है। यहां विदेश से लौटे लोगों के ठीक से नाम-पते नोट नहीं किए गए। उनको ट्रेस नहीं किया जा सका। इससे ऐसे हालात बन रहे हैं। आपको बता दें कि राज्य में एक दिन पहले 72 केस थे।

इधर, सरकार ने संक्रमण का असर छिपाने के लिए प्रदेश में टेस्टिंग घटा दी है। 24 दिसंबर को 62,065 टेस्ट हुए थे। 29 दिसंबर को 61,621 तो 30 दिसंबर को 61,361 टेस्ट किए गए। रोजाना हो रही जांचों की संख्या एक हफ्ते में 1000 कम कर दी गई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रोजाना 70 हजार टेस्टिंग के निर्देश दिए थे।

भोपाल में संक्रमण की रफ्तार तीन गुना
भोपाल में 24 घंटे में 16 संक्रमित आए हैं, जो पिछले चार दिन से 6-7 के बीच मिल रहे थे। यहां कोरोना की रफ्तार तीन गुना बढ़ी है। यहां दो संक्रमित अमेरिका से और एक दुबई से लौटा है। उन्हें होम आइसोलेशन में रखा गया है और उनकी कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की जा रही है।

जबलपुर में 5 महीने बाद 10 से ज्यादा केस
जबलपुर में कोरोना केस की रफ्तार तेजी से बढ़ी है। यहां 3-4 दिन पहले तक 1-2 कोरोना संक्रमित मिल रहे थे, जो गुरुवार को 11 हो गए हैं। जिले में पांच महीने बाद इतने केस आए हैं।

इटारसी में एक ही परिवार की 3 महिलाएं संक्रमित
इटारसी में पिछले दो दिन में 4 कोरोना संक्रमित मिले हैं। बीते 24 घंटे में 3 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। तीनों एक ही परिवार की तीन महिलाएं हैं। तीनों बीते दिनों हैदराबाद से लौटी हैं। इनके सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजे जाएंगे, ताकि पता लगाया जा सके कि ये कहीं ओमिक्रॉन संक्रमित तो नहीं हैं।

सीएम भोपाल के हमीदिया अस्पताल पहुंचे

Cm शिवराज सिंह चौहान भोपाल के हमीदिया अस्पताल निरीक्षण करने पहुंचे। उन्होंने ऑक्सीजन प्लांट और वार्डों का निरीक्षण किया। इस दौरान उनके साथ स्वास्थ्य विभाग के अफसर मौजूद रहे।

हमीदिया अस्पताल में निरीक्षण करते सीएम शिवराज सिंह चौहान।
हमीदिया अस्पताल में निरीक्षण करते सीएम शिवराज सिंह चौहान।