• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Intermittent Water Fall Started With The Arrival Of Monsoon Trough Up To Gwalior Satna; Heavy Rain Till 9 Across The State Including Bhopal Indore From Monday

MP में राहत की बारिश:मानसून ट्रफ के ग्वालियर-सतना तक आने से रुक-रुककर पानी गिरना शुरू; भोपाल, इंदौर में हल्की बारिश, 5 शहरों में अलर्ट

भोपालएक महीने पहले
बीते 24 घंटों के दौरान भोपाल में करीब आधा इंच तक बारिश हो गई।

मध्यप्रदेश के अधिकतर हिस्सों में बीते 24 घंटे में जमकर बारिश हुई है। सबसे ज्यादा खरगोन में 5 इंच और सीहोर में 4 इंच पानी गिरा है। यह बंगाल की खाड़ी में बन रहे लो प्रेशर एरिया के कारण हो रहा है। मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने बताया कि कल तक यह लो प्रेशर एरियर बन सकता है। अभी मानसून ट्रफ ग्वालियर और सतना से गुजर रही है।

इस कारण से प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में रुक-रुककर बारिश शुरू हो गई है। लो प्रेशर एरिया के पूरी तरह सक्रिय होने के बाद सोमवार से भोपाल और इंदौर समेत प्रदेश भर में अच्छी बारिश की उम्मीद रहेगी। सीहोर के दक्षिणी भाग और देवास में तेज और विदिशा, भोपाल, गुना, बड़वानी और रायसेन जिलों में शाम तक रुक-रुककर पानी गिरा।

बारिश का अलर्ट

मौसम विभाग ने अगले चौबीस घंटों के दौरान बैतूल, हरदा, खरगोन, धार और बुरहानपुर में भारी बारिश होगी। इसके साथ ही भोपाल, इंदौर, जबलपुर, होशंगाबाद, ग्वालियर और उज्जैन संभागों में कहीं-कहीं गरज चमक के साथ हल्की बौछारें पड़ सकती हैं। इसके अलावा रीवा, सागर, शहडोल एवं चंबल संभागों में कहीं-कहीं बूंदाबांदी हो सकती है।

ट्रफ लाइन ग्वालियर-सतना तक आई
वर्तमान में मॉनसून ट्रफ गंगानगर, हिसार, हमीरपुर, गया और कोलकाता से कुछ नीचे ग्वालियर और सतना तक आ गई है। यह पूर्वोत्तर बंगाल की खाड़ी तक फैल रही है। पंजाब, कच्छ, दक्षिणी छत्तीसगढ़ और पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी के क्षेत्रों में चक्रवातीय गिविधियां सक्रिय हैं। अगले 24 घंटों में उत्तर-मध्य बंगाल की खाड़ी में निम्न दाब क्षेत्र बनने की संभावना है। इसके बाद 9 सितंबर तक प्रदेश भर में अच्छी बारिश की उम्मीद है।

यहां जमकर पानी गिरा
बीते 24 घंटों के दौरान सबसे ज्यादा पानी खरगोन के झिरन्या में 5 इंच और सीहोर के नसरुल्लागंज में 4 इंच गिरा है। इसके अलावा सीहोर शहर में 1 इंच, बुरहानपुर सिटी में 2.5 इंच, नेपानगर में 2 इंच, शाजापुर के कालापीपल में 2.5, शिवपुरी के खनियाधाना में 2, रायसेन सिटी में 1.5 इंच, बैतूल के आठनेर में 1.5,ग्वालियर के भितरवार में 2 इंच, हरदा सिटी में 1.5 इंच, देवास के उदयनगर में 1 इंच, गुना में 1 इंच, अशोकनगर के चंदेरी में 1, विदिशा के सिरोंज में 1, दतिया के भांडेर में 1 इंच, भोपाल सिटी 0.5 इंच, टीकमगढ़ के पलेरा में 2.5 इंच, जतारा में 2 इंच, मंडला के नारायणगंज में 2.5 इंच, नैनपुर में 2 इंच, छतरपुर के नौगांव में 2 इंच,, निवाड़ी के पृथ्वीपुर में 2 इंच, बालाघाट के पाला में 2 इंच, अनूपपुर के अमरकंटक में 1.5 इंच और सिवनी के केवलारी में 1 इंच तक पानी गिरा।

खबरें और भी हैं...