पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Kamal Nath; Madhya Pradesh Congress President And EX CM Attacks On Shivraj Singh Chouhan Government

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नाथ का शिव पर हमला:दुष्कर्म की वारदातों पर पूर्व CM बोले- बहन-बेटियाें को सुरक्षा चाहिए, शिवराज सरकार पूजन और उम्र के नाम पर गुमराह कर रही है

भोपाल3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रदेश में बच्चियों व महिलाओं के साथ हो रही दरिंदगी काे लेकर पूर्व मुख्यमंत्री ने शिवराज सरकार पर हमला बोला। - Dainik Bhaskar
प्रदेश में बच्चियों व महिलाओं के साथ हो रही दरिंदगी काे लेकर पूर्व मुख्यमंत्री ने शिवराज सरकार पर हमला बोला।
  • कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा- जहरीली शराब की तरह बेटियों के साथ हो रही दरिंदगी पर भी अफसरों की जिम्मेदारी तय हो

प्रदेश में महिलाओं-बच्चियों के साथ दरिंदगी की घटनाओं को लेकर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व सीएम कमलनाथ ने शिवराज सरकार पर निशाना साधा है।

उन्होंने सरकार की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाया। नाथ ने सोशल मीडिया पर लिखा है, 'मध्य प्रदेश में बहन, बेटियों से दरिंदगी की घटनाएं निरंतर जारी हैं। बहन-बेटियां अपनी सुरक्षा चाहती हैं, लेकिन कभी पूजन तो कभी उनकी उम्र के नाम पर गुमराह किया जा रहा है।

दरअसल, मप्र में पिछले 9 माह में 7 हजार से अधिक बच्चियां लापता हो चुकी हैं। 12 जनवरी को शिवराज सिंह चौहान का बयान आया था। इसमें उन्होंने राय व्यक्त की थी कि देश में लड़कियों की शादी की उम्र 18 साल से बढ़ाकर 21 साल कर देनी चाहिए। उन्होंने कहा कि यह बहस का विषय होना चाहिए और देश-प्रदेश को इस बात पर चिंतन करना चाहिए।

गौरतलब है कि सीधी, खंडवा, उमरिया और बैतूल के बाद अब इंदौर में हैवानियत की घटना सामने आई हैं। इसमें अपहरण के बाद छात्रा से गैंगरेप और फिर बाेरे में बंद कर जलाने की कोशिश की गई।

कमलनाथ ने इन घटनाओं पर चिंता जाहिर करते हुए लिखा है- 'सीधी, खंडवा, उमरिया और बैतूल जिले की सारणी की वीभत्स घटनाओं के बाद अब इंदौर की घटना ने प्रदेश को शर्मसार किया है। जो विपक्ष में बैठकर बहन-बेटियों की सुरक्षा को लेकर लंबे-चौड़े भाषण देते थे। धरना करते थे, वो आज इन घटनाओं पर मौन हैं?'

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सोशल मीडिया पर सरकार की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए।
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सोशल मीडिया पर सरकार की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए।

इसी तरह प्रदेश में पिछले 9 महीने में जहरीली शराब से 46 लोगों की मौत हो चुकी है। मुरैना में 10 जनवरी को हुई घटना में 26 लोगों की मौत हुई। ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए मुख्यमंत्री ने 19 जनवरी को सख्त निर्देश दिए थे। उन्होंने कहा था कि यदि भविष्य में इस तरह की घटनाएं हुईं तो जिम्मेदारों का कॅरिअर तबाह कर दूंगा।

मुख्यमंत्री के इस बयान बाद कमलनाथ ने सवाल किया, 'पता नहीं कब नींद से जागेगी सरकार और बहन-बेटियों को सुरक्षा प्रदान करने को लेकर कड़े कदम उठाएगी? जहरीली शराब की तरह ही बहन-बेटियों से दरिंदगी की घटनाओं पर अफसरों की जिम्मेदारी तय हो।'

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- कहीं इन्वेस्टमेंट करने के लिए समय उत्तम है, लेकिन किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन अवश्य लें। धार्मिक तथा आध्यात्मिक गतिविधियों में भी आपका विशेष योगदान रहेगा। किसी नजदीकी संबंधी द्वारा शुभ ...

और पढ़ें