पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Kamal Nath Said The Situation May Get More Frightening In The Coming Days, Shivraj Claims Oxygen Supply Is Becoming Increasingly Common In The State

'कोरोना' को लेकर सरकार पर हमलावर विपक्ष:कमलनाथ ने कहा- आगामी दिनो में हालात और भयावह हो सकते है, शिवराज का दावा-प्रदेश में तेजी से सामान्य हो रही है ऑक्सीजन की सप्लाई

भोपाल5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण की बेलगाम रफ्तार से हाल-बेहाल है। इस बीच ऑक्सीजन की कमी, रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी और अस्तपालों में बेड नही मिलने से मरीजों के परिजन परेशान हैं। इसको लेकर कांग्रेस सरकार पर आरोप लगाने का कई मौका नहीं छोड़ रही है। जबकि सरकार का दावा कर रही है कि सब इंतजाम हो रहे हैं।

प्रदेश के हालातों को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सोशल मीडिया पर सरकार को घेरा है। उन्होंने लिखा- प्रदेश में कोरोना संक्रमण के आंकड़े निरंतर बढ़ते जा रहे हैं। संक्रमण दर और एक्टिव मरीज़ों की संख्या भी बढ़ती जा रही है। वर्तमान स्थिति में ही अस्पतालों में बेड नहीं है, ऑक्सिजन नहीं है, इंजेक्शन नहीं है। उन्होंने आगे लिखा- शिवराज सरकार बेडों की संख्या बढ़ाने, ऑक्सिजन और रेमडेसिविर इंजेक्शन की कमी दूर के साथ आवश्यक दवाई व उपकरणों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के युद्ध स्तर पर गंभीर प्रयास करे। अन्यथा आगामी दिनो में स्थितियां और भयावह हो सकती है।

इसका जवाब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोशल मीडिया पर दिया। उन्होंने दावा किया- आक्सीजन की सफ्लाई अब मध्य प्रदेश में तेजी से सामान्य हो रही है। कल यानी 16 अप्रैल को 350 मैट्रिक टन ऑक्सीजन मिली। जबकि खपत 335 मैट्रिक टन हुई है। इससे पहले मुख्यमंत्री ने अपने निवास पर अफसरों की बैठक ली। जिसमें बताया गया कि केन्द्र सरकार से 20 अप्रैल तक 445 मैट्रिक टन, 25 अप्रैल तक 565 मैट्रिक टन और 30 अप्रैल 700 मैट्रिक टन आक्सीजन आपूर्ति पर सहमति प्राप्त हो गई है। आक्सीजन की इतनी मात्रा अप्रैल अंत तक अनुमानित मरीजों के लिए पर्याप्त होगी। इसी तरह जानकारी दी गई कि अब तक 42 हजार रेमडेसिविर इंजेक्शन की शासकीय सप्लाई आ चुकी है। आज शनिवार को 9,788 इंजेक्शन और प्राप्त हो रहे हैं। 50 हजार इंजेक्शन की सप्लाई का आर्डर दिया गया है, जिसकी शीघ्र ही डिलीवरी प्राप्त होगी। अफसरों ने बताया कि मरीजों के लिए ।0 हजार 276 बेड उपलब्ध है। बेडों की संख्या निरतंर बढ़ाई जा रही है।

खबरें और भी हैं...