• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Last Round Meeting Between Shivraj VD Sharma At Kolar Dame Rest House; Organization Ministers Of Districts Will Get New Responsibility, Names Of Spokespersons And Panelists Will Be Final

MP के निगम-मंडलों में नियुक्तियां जल्द:​​​​​​​शिवराज-वीडी शर्मा के बीच 10 घंटे चली बैठक; जिलों के संगठन मंत्रियों को मिलेगी नई जिम्मेदारी; प्रवक्ता और पैनलिस्ट के नाम फाइनल

मध्य प्रदेश4 महीने पहले

मध्य प्रदेश में निगम-मंडलों में जल्द नियुक्तियाें के संकेत मिले हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने इस पर चर्चा के लिए रविवार को कोलार डैम रेस्ट हाउस में बैठक की। करीब 10 घंटे चली इस बैठक में जिलों के संगठन मंत्रियों को नई जिम्मेदारी देने पर भी चर्चा होने का दावा किया जा रहा है। इसके अलावा प्रवक्ताओं और पैनलिस्ट के नाम भी फाइनल किए गए हैं।

पार्टी सूत्रों का कहना है, बैठक में मुख्य रूप से निगम-मंडलों, प्राधिकरणों में अध्यक्ष-उपाध्यक्ष व अन्य पदों पर नियुक्तियां करने को लेकर मंथन हुआ। माना जा रहा है, सभी राजनीतिक पदों के लिए नाम लगभग तय कर लिए गए हैं। अगले 5-7 दिनों में विभागवार आदेश जारी कर दिए जाएंगे। इसके अलावा सरकार और संगठन से जुड़े महत्वपूर्ण फैसलों को लेकर चर्चा हुई। बैठक में प्रदेश संगठन मंत्री सुहास भगत व सह संगठन महामंत्री हितानंद भी मौजूद रहे। बैठक में 1 लोकसभा और 3 विधानसभा सीटों के लिए होने वाले चुनाव को लेकर भी मंथन किया गया।

कमलनाथ सरकार में हुई थीं नियुक्तियां
निगम-मंडलों में 2018 से नियुक्तियां नहीं हुई हैं। कमलनाथ ने अपनी सरकार जाते-जाते कुछ जगहों पर नियुक्तियां कर दी थीं। 23 मार्च 2020 में शिवराज सरकार आने के बाद बाकी की जगहों पर नियुक्तियां अटकी हैं। अब नगरीय निकाय व पंचायत चुनाव से पहले इन पदों को भरना चाहती है। यह नियुक्तियां नहीं हो पाने के कारण पार्टी नेताओं में असंतोष बढ़ता रहा है। पार्टी सूत्रों के मुताबिक, मुख्यमंत्री ने 23 जुलाई को भाजपा दफ्तर पहुंचकर पार्टी के राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिवप्रकाश से मुलाकात की थी। करीब आधे घंटे चली बैठक में निगम-मंडलों में नियुक्तियों के साथ होने वाले उपचुनाव को लेकर बात हुई थी। इसके बाद प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने भी शिवप्रकाश से मिले थे।

इससे पहले 21 जुलाई को हुई थी बैठक
इससे पहले मुख्यमंत्री ने 21 जुलाई को देर शाम सीएम हाउस में प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और प्रदेश संगठन मंत्री सुहास भगत के साथ बैठक की थी। सूत्रों की मानें तो बैठक में उपचुनाव के साथ-साथ निगम मंडल में जल्द नियुक्तियां करने पर भी रजामंदी बनी है। माना जा रहा है, बैठक में ओबीसी, ​​​​​​अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के नेताओं की सत्ता और संगठन में सक्रियता बढ़ाने पर चर्चा हुई थी। साथ ही, सिंधिया समर्थक नेताओं को निगम मंडल और आयोगों में फिट करने पर भी चर्चा हो चुकी है।

सिंधिया के 4 समर्थकों को जगह देने पक सहमति
सूत्रों के मुताबिक, केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के 4 समर्थक नेताओं को निगम-मंडल में जगह दिए जाने पर मुख्यमंत्री ने सहमति दे दी है। माना जा रहा है कि इमरती देवी, ऐदल सिंह कंषाना, मुन्नालाल गोयल और गिर्राज दंडोतिया को इसमें शामिल किया जाएगा। इन्हें निगम-मंडल में अध्यक्ष बनाया जा सकता है। पिछले भोपाल प्रवास के दौरान सिंधिया की शिवराज और प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा के साथ हुई बैठक में इन 4 नामों को लेकर चर्चा हुई थी। इनके अलावा सिंधिया के समर्थक रणवीर जाटव, पंकज चतुर्वेदी, रक्षा संतराम सिरोलिया और जसपाल सिंह जज्जी को राजनीतिक पद मिल सकता है।

संगठन मंत्रियों को किया जाएगा एडजस्ट
निगम-मंडलों में नियुक्तियों के अलावा जिलों के संगठन मंत्रियों को प्रदेश कार्यकारिणी में एडजस्ट करने की तैयारी है। ऐसे भी संकेत हैं, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) से बीजेपी में आए इन नेताओं को प्रदेश में बड़ी जिम्मेदारी भी मिल सकती है। ऐसा पहली बार हुआ है, जब बीजेपी ने जिलों में तैनात संगठन मंत्रियों को हटाया है। नई व्यवस्था के तहत संभागीय मुख्यालयों में संगठन मंत्री रहेंगे।

शिवराज ने शनिवार को अमित शाह से मुलाकात की थी
शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी। इससे पहले एक महीने में वे तीन बार दिल्ली दौरे पर गए थे। इस दौरान केंद्रीय मंत्रियों और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से भी मुलाकात की थी। शुक्रवार और शनिवार को वह लगातार दो दिन दिल्ली दौरे पर गए और लौट आए। शुक्रवार को सीएम ने दिल्ली में तीन केंद्रीय मंत्रियों से मुलाकात की थी। शाम को फिर भोपाल लौट आए थे। इसके बाद शनिवार को फिर दिल्ली गए और अमित शाह से मुलाकात की। दोनों नेताओं की मुलाकात की तस्वीरें सीएम ने अपने ट्विटर हैंडल से शेयर भी किए थे। हालांकि, केंद्रीय गृह मंत्री से किन मुद्दों पर बात हुई है, इसके बारे में जानकारी नहीं दी। पहले मंत्रियों से जब सीएम की मुलाकात होती थी तो मुद्दों के बारे में जानकारी दी जाती थी। इस मुलाकात को बीजेपी की तरफ से सामान्य बताने की कोशिश की जा रही है। मगर सियासी गलियारों में चर्चा है कि उनके पास बात करने की कई मुद्दे थे।

खबरें और भी हैं...