• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Madhya Pradesh Budget 2021; Shivraj Singh Chouhan Govt To Build Police Hospital In Bhopal For Rs 10 Crore

MP बजट:भोपाल में 10 करोड़ रुपए से पुलिस अस्पताल बनेगा; सर्वसुविधा युक्त 50 बिस्तर वाला होगा, गृह विभाग का बजट 7% बढ़ाया

भोपाल8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भोपाल में पुलिसकर्मियों के लिए अलग से 50 विस्तरों वाला सर्वसुविधा युक्त अस्पताल बनेगा। - प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
भोपाल में पुलिसकर्मियों के लिए अलग से 50 विस्तरों वाला सर्वसुविधा युक्त अस्पताल बनेगा। - प्रतीकात्मक फोटो
  • वर्ष 2020-21 में 8110 करोड़ से बढ़ाकर 8673 करोड़ किया
  • मध्यप्रदेश पुलिस स्वास्थ्य योजना में 20 रुपए रखे गए

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में पुलिसकर्मियों के लिए अलग से अस्पताल बनाया जाएगा। इसका निर्माण करीब 10 करोड़ रुपए से किया जाएगा। यह 23वीं या 25वीं बटालियन में बनाया जाएगा, जिसमें पुलिसकर्मियों का इलाज किया जाएगा। यह 50 बिस्तर वाला होगा। इसकी घोषणा करते हुए वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने बताया कि गृह विभाग का बजट भी करीब 7% बढ़ाया गया है।

पिछले वित्त वर्ष के 8110 करोड़ रुपए से बढ़ाकर इसे 8673 करोड़ किया गया है। इसके साथ ही पुलिसकर्मियों के स्वास्थ्य सुरक्षा योजना में मेडिकल क्लेम के लिए 20 करोड़ रुपए रखे गए हैं। इसके साथ ही पुलिसकर्मियों के लिए 25 हजार नए आवास बनाए जा रहे हैं।

लोक सेवा गारंटी कानून में बदलाव होगा; तय वक्त पर लोगों का काम नहीं हुआ तो सर्टिफिकेट अपने आप जारी हो जाएगा

अभी सिर्फ सर्दी जुकाम का इलाज होता है

भोपाल में पुलिसकर्मियों के लिए पुलिस कंट्रोल रूम के पास के अलावा 23वीं और 25वीं बटालियन में स्वास्थ्य ​​​​​केंद्र हैं, लेकिन यह सिर्फ सर्दी जुकाम का इलाज ही मिल पाता है। यह पुलिस का पहले सबसे बड़ा अस्पताल होगा, जहां सभी तरह के इलाज की सुविधाओं के साथ भर्ती किए जाने की सुविधा होगी।

सभी इमरजेंसी सेवाओं को 112 नंबर से जोड़ा जाएगा

मध्यप्रदेश में लोगों की मदद के लिए संचालित सभी तरह के इमरजेंसी नंबर जैसे, फायर, डायल-100 और एंबुलसें 108 को केंद्र सरकार के आपातकालीन नंबर 112 से जोड़ा जाएगा। इसके अलावा CCTNS, CCTV और डायल-100 आपस में जोड़ा जाएगा।

अपराधों पर अंकुश लगाने तकनीक का साहरा लिया जाएगा

देवड़ा ने कहा कि मध्यप्रदेश में अपराधों पर अकुंश लगाने के लिए आधुनिक तकनीक का सहारा लिया जाएगा। इसके लिए फेस रिकग्नीशन और व्हीकल डिटेक्शन तकनीकों को विकसित किया जाएगा। अब तक माफिया के खिलाफ कर प्रदेश भर से 800 करोड़ रुपए कीमत की 3 हजार 300 एकड़ सरकारी जमीन मुक्त कराई गई है।

यह बजट रखा गया

मदवर्ष 2020-21वर्ष 2021-22
निदेशन और प्रशासन11852441185455
शिक्षा एवं प्रशिक्षण17073111868420
आपराधिक अन्वेषण32697013566728
विशेष पुलिस1368887014848112
राज्य मुख्यालय पुलिस419063468290
जिला पुलिस4133038344386485
ग्राम पुलिस1759418029
रेल पुलिस13042861442038
पुलिस कर्मियों का कल्याण231617269567
बेतार और कंप्यूटर16070381910941
पुलिस आधुनिकीकरण142382393501
न्यायालयिक विज्ञान309096340419

नोट : मद में दी गई राशि के आंकड़े हजार रुपयों में हैं।

खबरें और भी हैं...