• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Madhya Pradesh Corona Cases. Know How Many Beds Are Vacant In Which Hospital On A Single Click; Information About The Package Of Treatment On The Portal

MP में कोरोना मरीजों के लिए सुविधा:5 स्टेप में जानिए, किस अस्पताल में कितने बेड खाली; पोर्टल पर इलाज के पैकेज की भी जानकारी

भोपाल5 महीने पहले

कोरोना मरीजों को किस अस्पताल में भर्ती किया जा रहा है। अस्पताल में बेड उपलब्ध हैं या नहीं? निजी अस्पताल में इलाज का पैकेज क्या है? यह जानकारी मरीजों और उनके परिजनों को मध्यप्रदेश सरकार के Sarthak.nhmmp.gov.in पोर्टल पर मिलेगी। इस पोर्टल पर जाकर कोई भी व्यक्ति एक क्लिक में सरकारी और निजी अस्पताल की जानकारी ले सकता है। किसी भी तरह की मदद के लिए पोर्टल पर अस्पताल का हेल्पडेस्क नंबर और डॉक्टर का नंबर भी है। प्राइवेट अस्पताल में इलाज के पैकेज की भी जानकारी मिल सकेगी।

आपके जिले के किस अस्पताल में उपलब्ध हैं बेड, जानिए- 5 स्टेप में

  • STEP 1. आपको http://sarthak.nhmmp.gov.in पोर्टल पर जाना है। इसके खुलते ही प्रदेश के कुल कोविड अस्पतालों और उनमें उपलब्ध बेड की जानकारी का विकल्प दिखाई देगा।
  • STEP 2. इस बॉक्स पर क्लिक करने पर प्रदेश के आइसोलेटेड बेड, ऑक्सीजन सपोर्टेट बेड और आईसीयू/ एचडीयू बेड की जानकारी सामने आ जाएगी।
  • STEP 3. यहां ‘और देखें’ का विकल्प दिखाई देगा। इस पर क्लिक करने पर अगला पेज खुल जाएगा।
  • STEP 4. जिले का चयन करने पर अगले बॉक्स में सरकारी या प्राइवेट अस्पताल का चयन करना होगा। इसके बाद संबंधित कैटेगरी के अस्पताल की पूरी लिस्ट दिखने लगेगी।
  • STEP 5. अस्पताल पर क्लिक करने पर उसके कोविड के लिए आरक्षित बेड और उपलब्ध बेड की जानकारी सामने दिखेगी।

पेज के नीचे संपर्क करने के लिए हेल्पडेस्क और प्रभारी डॉक्टर का नाम और नंबर भी दिखाई देगा। निजी अस्पताल में पैकेज के विकल्प पर क्लिक करने पर उसकी डिटेल भी मिल जाएगी।

MP में 65 हजार बेड्स उपलब्ध

प्रदेश में कोरोना मरीजों के इलाज के लिए 64 हजार 998 बेड्स तैयार हैं। इसमें आइसोलेट बेड 20 हजार 981, ऑक्सीजन सपोर्ट बेड 31 हजार 93 और आईसीयू/एचडीयू बेड 12 हजार 924 हैं।

ये भी पढ़िए:-

ग्वालियर में भी होगी जीनोम सीक्वेंसिंग

MP में कोरोना LIVE:एक दिन में छह मौत

गांवों में घुसा कोरोना:MP में दो हफ्ते में मिले केस में 10% गांवों से

आने वाले दिनों में ICU में बढ़ेंगे मरीज

होम आइसोलेट पेशेंट के लिए जरूरी खबर