• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Madhya Pradesh Coronavirus; IISER Bhopal Develop Low Cost AI Enabled Device To Prevent Covid 19 Spread

भोपाल में इनोवेशन:कैमरे के सामने आते ही 3 सेकंड तक मशीन सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क के लिए अनाउंसमेंट करती है; IISER के असिस्टेंट प्रोफेसर और छात्र ने 8 हजार रु. में बनाई

भोपाल9 महीने पहलेलेखक: अनूप दुबे
इस डिवाइस को 15 दिन में तैयार किया गया। इस पर करीब 8 हजार रुपए का खर्च आया।
  • अक्टूबर में बनाना शुरू किया अब मशीन 95% रिजल्ट देने लगी
  • 15 दिन में पहली मशीन तैयार हुई, अब उसे किया जा रहा अपडेट

भोपाल में सेंट्रल गवर्नमेंट के इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एजुकेशन एंड रिसर्च (IISER) के असिस्टेंट प्रोफेसर और छात्र ने मिलकर सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क नहीं पहनने पर अलर्ट करने वाली डिवाइस तैयार किया है।

कैमरे से वीडियो और स्टिल इमेज अपलोड होती है। इसके बाद अनाउंसमेंट होने लगता है।
कैमरे से वीडियो और स्टिल इमेज अपलोड होती है। इसके बाद अनाउंसमेंट होने लगता है।

मास्क या सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं होने पर डिवाइस 3 सेकंड तक अनाउंसमेंट करती है। इसमें वह लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने और मास्क पहनने काे कहती है। इसे 8 हजार रुपए में तैयार किया गया है। IISER कैंपस में इस तरह के अब तक 6 डिवाइस लगाए जा चुके हैं।

15 दिन में बनाई मशीन

इसे बनाने वाले असिस्टेंट प्रोफेसर डॉक्टर सुजीत टीबी ने बताया कि उनके साथ इस मशीन को अक्टूबर में डॉक्टर शांतनु, डॉक्टर वैंकट, डॉक्टर मित्रजीत और स्टूडेंट काशी विश्वनाथ ने बनाया है। अक्टूबर में इस पर काम शुरू किया गया था। करीब 15 दिन में इसे तैयार कर लिया गया, उसके बाद से ही इसे अब अपडेट किया जा रहा है।

इस मशीन को अभी भी अपडेट किया जा रहा है।
इस मशीन को अभी भी अपडेट किया जा रहा है।

इसे बनाने में करीब 8 हजार रुपए का खर्च आया है। इसके कारण ही अब कैंपस में सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाने के नियम को आसानी से फॉलो कराने में सुविधा हुई है। अब तक टीम इस तरह की 6 मशीनें बना चुकी है। इसकी एक्यूरेसी यानी काम करने की कुशलता करीब 95% तक पाई गई है।

इस तरह से तैयार की गई मशीन

डॉक्टर शांतनु ने बताया कि मशीन में एक कैमरा लगा है, जो वीडियो और स्टिल इमेज लेता है। इसमें एक कंप्यूटर डिवाइस फिट किया गया है। फोटो और वीडियो लेने के बाद इसे कंप्यूटर से एनालिसिस किया जाता है। अगर कोई मास्क नहीं पहने है या सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करते पाया जाता हैं तो अनाउंसमेंट होने लगता है। अनाउंसमेंट करीब तीन सेकंड तक चलता है।